DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वीडियो, पीड़ितों को वकीलों से रहती उम्मीद, गंभीरता से लड़ें इंसाफ की लड़ाई

पीड़ितों को वकीलों से रहती उम्मीद, गंभीरता से लड़ें इंसाफ की लड़ाई

पीड़ितों को इंसाफ दिलाने के लिए अधिवक्ताओं को आगे आना चाहिए। पीड़ित उम्मीद भरी नजरों से अधिवक्ताओं की ओर से देखते हैं। उनकी उम्मीदों को कायम रखने के लिए पूरी गंभीरता से इंसाफ के लिए लड़ाई लड़ने की आवश्यकता है। ये बातें जिला व सत्र न्यायाधीश शैलेंद्र कुमार सिंह ने रविवार को कहीं। वे बिहार एडवोकेट्स वेलफेयर एसोसिएशन की ओर से कंपनीबाग रोड स्थित रेडक्रॉस भवन में आयोजित सम्मान समारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने जिला बार एसोसिएशन व एडवोकेट्स एसोसिएशन के नवनिर्वाचित अधिकारियों व सदस्यों को बधाई दी। अध्यक्षता करते हुए एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष कुमोद सहाय ने कहा कि क्रिमिनल जस्टिस सिस्टम में मान्यता है कि कोर्ट द्वारा दोषी साबित होने से पहले तक आरोपित निर्दोष है। अधिवक्ता आरोपितों को निर्दोष मानकर उनकी बातों को कोर्ट के समक्ष रखते हैं। उनका एकमात्र उद्देश्य पीड़ितों को न्याय दिलाना होता है। कार्यक्रम का संचालन एसोसिएशन के संयोजक डॉ. राजेश अनुपम ने किया। मौके पर एडीजे प्रथम आरपी तिवारी, उपभोक्ता फोरम के अध्यक्ष एके सिंह, बार एसोसिएशन के अध्यक्ष नवल किशोर प्रसाद सिन्हा, महासचिव प्रवीण कुमार, एडवोकेट्स एसोसिएशन के अध्यक्ष रामशरण सिंह, रेडक्रॉस के सचिव उदय शंकर प्रसाद सिंह, डॉ. जेपी सिंह, लक्ष्मी नारायण सिंह, शंभू चरण सिन्हा, एमए एजाजी, पीके शाही, एके चौधरी व हरेराम मिश्र आदि थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Victims hope to stay with lawyers fight seriously fight justice