Verification of applications of agricultural input not being done properly - कृषि इनपुट के आवेदनों का सही से नहीं हो रहा सत्यापन DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कृषि इनपुट के आवेदनों का सही से नहीं हो रहा सत्यापन

कृषि इनपुट के सत्यापन में भारी अनियमितता सामने आ रही है। आपदा विभाग के अपर समाहर्ता ने जिला कृषि अधिकारी को पत्र लिखकर इसकी जानकारी दी है। अपर समाहर्ता ने पत्र में लिखा है कि कृषि विभाग से जो सत्यापन हो रहा है उसमें गड़बड़ी पाई जा रही है। किसानों की फोटो वास्तविक रूप से खेत में नहीं लिया गया है। फोटोशॉप में एडिट करके खेत का दृश्य दिखा दिया गया है। वहीं, बड़े पैमाने पर ऐसे आवेदन मिल रहे हैं जिसमें वंशावली की सूची संलग्न नहीं है। अस कारण यह पता लगा पाना मुश्किल हो रहा है कि आवेदकों के हिस्से में कितनी जमीन है।

आपदा विभाग के पास आवेदन कृषि विभाग के दो स्तरों के सत्यापन के बाद पहुंची है। अपर समाहर्ता ने कहा है कि ऐसा लगता है कि कनीय अधिकारियों की ओर से सही ढंग से सत्यापन का कार्य नहीं किया गया है। कृषि इनपुट में किसानों के आवेदन को तीन स्तर पर सत्यापन किया जाना है। इसमें पहले चरण का सत्यापन कृषि समन्वयक और दूसरे चरण का जिला कृषि अधिकारी को करना है। आवेदन का अंतिम सत्यापन आपदा विभाग के अपर समाहर्ता को 20 जनवरी तक करना है। जिले में 100386 किसानों ने कृषि इनपुट के लिए आवेदन किया है। यहां सत्यापन का कार्य काफी धीमा है। अभी तक पंद्रह फीसदी ही आवेदनों का सत्यापन हो सका है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Verification of applications of agricultural input not being done properly