DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

साइबर अपराध से निबटने के लिए भोपाल में पुलिस अधिकारियों को प्रशिक्षण

केंद्र सरकार की साइबर क्राइम प्रिवेंशन अगेंस्ट वुमेन एंड चिल्ड्रेन (सीसीपीडब्ल्यूसी) स्कीम के तहत सूबे के पांच पुलिस अधिकारियों को ‘कैपेसिटी बिल्डिंग टीओटी कोर्स का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। उन्हें भोपाल स्थित पुलिस एकेडमी में बुलाया गया है जहां दो जून तक प्रशिक्षण चलेगा। इन अधिकारियों में मुजफ्फरपुर के सिकंदरपुर ओपी प्रभारी मो. रफीक आलम भी शामिल हैं।

आर्थिक अपराध इकाई के एसपी के पत्र के अनुसार, साइबर अपराध की चुनौतियों से निबटने को लेकर भोपाल में स्पेशल प्रशिक्षण दिया जा रहा है। इसमें साइबर अपराध से निबटने और साइबर अपराधियों तक पहुंचने को लेकर टिप्स दिए जाएंगे। सिकंदरपुर ओपी प्रभारी के अलावा सुपौल के त्रिवेणीगंज अंचल इंस्पेक्टर मदन प्रसाद सिंह, कैमूर के डीआईयू शाखा के संतोष कुमार वर्मा, पूर्णिया टेक्नीकल सेल के अवधेश कुमार व बांका के दारोगा अभिषेक कुमार का चयन किया गया है।

साइबर फॉरेंसिक व क्राइम इंवेस्टीगेशन का ले चुके हैं प्रशिक्षण :

आर्थिक अपराध इकाई के एसपी के पत्र के अनुसार, प्रशिक्षण के लिए चयनित पुलिस अधिकारी पूर्व में भी टेक्नीकल जांच व साइबर फॉरेंसिक व क्राइम इंवेस्टीगेशन का प्रशिक्षण ले चुके हैं। इसके अलावा साइबर फॉरेंसिक एंड साइबर क्राइम इंवेस्टिगेशन, सी-डीएसी, सी-5 सॉफ्टवेयर एंड बेसिक कंप्यूटर एंड साइबर फॉरेंसिक का प्रशिक्षण ले चुके हैं।

साइबर सेल की खुलेंगी दो यूनिट :

सूबे में साइबर अपराध का ग्राफ लगातार बढ़ रहा है। इसकी रोकथाम के लिए पुलिस मुख्यालय सूबे में साइबर सेल की यूनिट खोलने की तैयारी में है। पुलिस मुख्यालय के मुताबिक हरेक 20 थाने पर साइबर सेल का एक यूनिट स्थापित करना है। जहां थानों की संख्या बीस से अधिक है, उस जिले में एक से अधिक यूनिट स्थापित की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Training to police officers in Bhopal to deal with cyber crime