ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार मुजफ्फरपुरजंक्शन के दक्षिणी गेट पर टिकट काउंटर व डिस्प्ले बोर्ड ठप

जंक्शन के दक्षिणी गेट पर टिकट काउंटर व डिस्प्ले बोर्ड ठप

जंक्शन के दक्षिणी गेट पर यात्री सुविधाओं में लगातार कटौती की जा रही है। टिकट काउंटर से लेकर ट्रेनों की समय सारणी बताने वाले इलेक्ट्रॉनिक डिस्प्ले...

जंक्शन के दक्षिणी गेट पर टिकट काउंटर व डिस्प्ले बोर्ड ठप
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,मुजफ्फरपुरMon, 01 Aug 2022 01:11 AM
ऐप पर पढ़ें

मुजफ्फरपुर, कार्यालय संवाददाता।

जंक्शन के दक्षिणी गेट पर यात्री सुविधाओं में लगातार कटौती की जा रही है। टिकट काउंटर से लेकर ट्रेनों की समय सारणी बताने वाले इलेक्ट्रॉनिक डिस्प्ले बोर्ड तक बंद हैं। दक्षिण गेट से जंक्शन पहुंचने वाले यात्रियों को कई तरह की चुनौतियों को झेलना पड़ रहा है। जंक्शन के उत्तरी गेट पर यात्रियों की भीड़ कम करने के लिए रेलवे ने दक्षिणी गेट पर यात्री सुविधाओं को विकसित करने की योजना बनाई थी, लेकिन सुविधा बढ़ाने के बदले कटौती की जा रही है।

बारिश के बाद दक्षिणी गेट के फर्श पर जलजमाव है। स्ट्रीट लाइट नहीं जलने से रात में इस तरफ यात्रियों से साथ अक्सर छिनतई की घटनाएं होती हैं। रविवार को दक्षिणी गेट से जंक्शन पहुंचे मझौलिया निवासी उमाशंकर प्रसाद ने बताया कि दोनों टिकट काउंटर बंद रहने के कारण परेशानी हुई। भाड़ी भरकम सामान लेकर दूसरी तरफ जाना पड़ा। इसके बाद टिकट बुक करा सका। इस दौरान आधा घंटा समय अधिक खर्च हुआ। बेवजह भागदौड़ के कारण काफी परेशानी हुई।

प्राय: बंद रहता है टिकट काउंटर

जंक्शन के दक्षिण गेट पर बने टिकट काउंटर प्राय: बंद रहते हैं। कोरोना महामारी के बाद दो में से एक काउंटर को चालू कराया गया, लेकिन प्रिंटर में खराबी व कर्मी की कमी के कारण अक्सर काउंटर बंद रहता है। बिना टिकट के जंक्शन पर प्रवेश करने पर पकड़े जाने के डर से यात्री दो किमी अतिरिक्त चक्कर लगाकर जंक्शन के उत्तरी गेट पर पहुंचते हैं। दक्षिणी गेट पर ट्रेनों के आगमन व प्रस्थान की जानकारी देने वाला डिस्प्ले बोर्ड भी बंद रहता है। इससे नयाटोला, मझौलिया, माड़ीपुर, कलमबाग रोड, गन्नीपुर व दामुचक के यात्रियों को परेशानी हो रही है।

बैठने व पेयजल की व्यवस्था नहीं

जंक्शन की दक्षिणी तरफ यात्रियों के बैठने के लिए कुर्सी व शेड नहीं हैं। पेयजल व शौचालय आदि मूलभूत सुविधाएं भी नदारद हैं। यात्रियों को टिकट लेने के लिए कड़ी धूप व वर्षा के बीच काउंटर पर खड़ा होना पड़ता है। परित्यक्त हो चुके टिकट काउंटर पर शेड बनाया गया था, लेकिन तूफान के कारण शेड भी क्षतिग्रस्त है। महीनों से शेड की रिपेयरिंग नहीं कराई गई है।

जंक्शन के दक्षिणी हिस्से को विकसित किया जाना है। टिकट काउंटर व ट्रेनों की समय सारणी बताने वाले डिस्प्ले ठप होने के संबंध में जानकारी लेकर कार्यवाही की जाएगी।

-नीलमणि, डीआरएम सोनपुर रेल मंडल

epaper