DA Image
Wednesday, December 1, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार मुजफ्फरपुरसमाज और शिक्षा से बनता है बच्चों का संसार...

समाज और शिक्षा से बनता है बच्चों का संसार...

हिन्दुस्तान टीम,मुजफ्फरपुरNewswrap
Sun, 14 Nov 2021 09:50 PM
समाज और शिक्षा से बनता है बच्चों का संसार...

मुजफ्फरपुर। वरीय संवाददाता

समाज और शिक्षा से बनता बच्चों का संसार है, अश्लीलता के खुलेपन से उनमें पनप रहा विकार है..। रविवार को आलोक कुमार अभिषेक ने जब यह कविता सुनाई तो तालियां गूंज उठी। मौका था बाबू अयोध्या प्रसाद खत्री साहित्यिक सेवा संस्थान के तत्वावधान में आयोजित कवि सम्मेलन का। गांधी पुस्तकालय गोला रोड में द्वितीय रविवासरीय 150वीं मासिक कवि गोष्ठी की अध्यक्षता सत्येंद्र कुमार सत्यन ने की। डॉ. नर्मदेश्वर चौधरी ने जब कविता हालात हमारे भी संवर क्यों नहीं जाते, ये ख्वाब हकीकत में बदल क्यों नहीं..सुनाया तो सभी वाह-वाह कर उठे। अनिल कुमार ने वह देखो हाथ..कविता सुनाई तो मोहन कुमार सिंह ने काश देश में..कविता सुनाई। मौके पर जगदीश शर्मा, उदय शंकर प्रसाद समेत कई कवियों ने अपनी कविता सुनाई।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें