DA Image
1 अक्तूबर, 2020|12:26|IST

अगली स्टोरी

स्वधार गृहकांड में ब्रजेश ठाकुर को रिमांड पर लेने की प्रक्रिया सुस्त, अबतक नहीं डाली गई ऑनलाइन अर्जी

बालिका गृहकांड में ताउम्र कैद की सजा काट रहे ब्रजेश ठाकुर व अन्य को पुलिस स्वाधार गृह कांड में न्यायिक रिमांड पर लेने की प्रक्रिया तेज नहीं कर सकी है। कोर्ट के आदेश के बावजूद आईओ ने रिमांड के लिए ऑनलाइन अर्जी नहीं दी है। इससे न्यायिक रिमांड पर लेने में विलंब हो रहा है। आगे की कार्रवाई भी लंबित है।  
सूत्रों के अनुसार ब्रजेश ठाकुर व अन्य का रिमांड होने से कोर्ट में ट्रायल शुरू हो जाएगा। इस मामले नियमित सुनवाई हो सकेगी। ऐसे में पुलिस की हीलाहवाली से कई सवाल खड़े हो रहे हैं। कोर्ट ने 16 सितंबर को ही आईओ को ऑनलाइन आवेदन करने का आदेश दिया था।
इधर, केस की आईओ इंस्पेक्टर नीरु कुमार ने बताया कि कोर्ट में ऑनलाइन आवेदन के लिए बहुत जल्द ऑनलाइन आवेदन दिया जाएगा। आवेदन करने से पहले कांड के सभी कागजात को अपडेट किया जा रहा है। ताकि, ऑनलाइन आवेदन त्रुटिरहित हो। सिटी एसपी राजेश कुमार ने बताया कि आईओ को जल्द आवेदन देने को कहा गया है।
बता दें कि बालिका गृह कांड के चर्चा में आने के बाद स्वाधार गृह से भी बच्चों समेत महिलाओं के गायब होने का मामला सुर्खियों में आया था।

गलत धारा जोड़ने को दिया था आवेदन
मालूम हो कि, इस कांड में पुलिस के वरीय अधिकारियों ने कई धारा जोड़ने का निर्देश तत्कालीन आईओ डॉ. आभा रानी को दिया था। लेकिन, उनके द्वारा गलत धारा जोड़ने को लेकर आवेदन दिया गया। जिस धारा को जोड़ने के लिए उन्होंने कोर्ट में अर्जी दी वह मामला ही नहीं था। इस वजह से भी यह मामला लंबित रहा। वर्तमान आईओ ने धारा जोड़वाकर आगे की प्रक्रिया पूरी करने में जुटीं।

 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:The process of taking Brajesh Thakur on remand in the Swadhar home shelter case is sluggish not yet filed online application