DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सरकारी योजनाओं के नाम से छेड़छाड़ कर हो रही ठगी

केंद्र सरकार की योजनाओं के नाम के साथ छेड़छाड़ कर ठगी की जा रही है। गिरोह योजनाओं के नाम के अक्षर में मामूली अंतर कर इसे अंजाम दे रहे हैं। प्रधानमंत्री की फोटो को निजी बेवसाइट पर इस्तेमाल कर गुमराह कर रहे हैं। इसे लेकर इलेक्ट्रॉनिक और सूचना प्रौद्योगिक मंत्रालय की ‘वैज्ञानिक जी गीता कठपालिए ने केंद्र व राज्य सरकार के सभी सचिव को पत्र लिखा है। साथ ही गिरोह की ठगी करने के तरीके से भी अवगत कराया है।

‘वैज्ञानिक जी के पत्र के आलोक में एसएसबी के डिप्टी कमांडेंट (संचार) ने एसएसबी के सभी फ्रंटियर, सेक्टर, बटालियन व अन्य विभागों को अलर्ट किया है। साथ ही ऐसे गिरोह को चिह्नित कर कार्रवाई करने का भी निर्देश दिया है। ‘वैज्ञानिक जी ने अपने पत्र में बताया है कि प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के अक्षर (स्पेलिंग में अंतर कर) के साथ छेड़छाड़ कर गिरोह ग्राहकों को गुमराह कर रहा है। मालूम हो कि सरकार डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा दे रही है। इलेक्ट्रॉनिक और सूचना प्रौद्योगिक मंत्रालय इसके प्रचार प्रसार में जुटा है।

इस प्रकार गिरोह कर रहा ठगी :

पत्र के अनुसार, ठग गिरोह कई प्रकार से ग्राहकों से सरकारी योजनाओं के नाम पर ठगी कर रहा है। गिरोह सरकारी योजनाओं से मिलता-जुलता नाम रख अपनी स्कीम शुरू कर रहे हैं। इसमें एक से दो अक्षर का अंतर होता है, जो सामान्य तौर पर आसानी से समझ में नहीं आता है। इसके अलावा प्रधानमंत्री, कैबिनेट मंत्री व अन्य का फोटो निजी वेबसाइट इस्तेमाल कर रहे है। निजी वेबसाइट पर सरकारी बेव साइट का इस्तेमाल कर रहे हैं। सरकारी नौकरी के नाम पर भी लोगों को गुमराह कर ठगी हो रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:The names of government schemes are being shuffled by tampering