The goal of producing wheat in Eastern Champaran - पूर्वी चम्पारण में सबसे अधिक गेहूं उत्पादन करने का लक्ष्य DA Image
18 नबम्बर, 2019|10:20|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पूर्वी चम्पारण में सबसे अधिक गेहूं उत्पादन करने का लक्ष्य

तिरहुत प्रमंडल के संयुक्त निदेशक ने छहों जिलों के फसलों के आच्छादन लक्ष्य निर्धारित किया है। प्रमंडल के 422000 हेक्टेयर जमीन पर गेहूं की बुआई की जाएगी। लक्ष्य के मुताबिक सबसे अधिक पूर्वी चम्पारण में 118000 हेक्टेयर में धान लगाया जाना है| जबकि सबसे कम शिवहर में 16000 हेक्टेयर में गेहूं लगाया जाएगा। मुजफ्फरपुर में 95000 हेक्टेयर, वैशाली में 48000 हेक्टेयर,सीतामढ़ी में 68000 हेक्टेयर, शिवहर में 16000 हेक्टेयर और पश्चिमी चम्पारण में 77000 हेक्टेयर में गेहूं की खेती की जाएगी। संयुक्त निदेशक ने सभी 6 जिलों में फसलों के आच्छादन लक्ष्य तय किया है। इसमें जौ, मक्का, चना, मसूर,मटर,दलहन, सरसों,तीसी, सूर्यमुखी के खेती करने का लक्ष्य तय किया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:The goal of producing wheat in Eastern Champaran