DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आधार नंबर पर ही मिलेगा छात्रों को डिजिलॉकर

आधार नंबर पर ही मिलेगा छात्रों को डिजिलॉकर

आधार नंबर पर ही सीबीएसई के छात्रों को डिजिलॉकर की सुविधा मिलेगी। बच्चे जहां चाहे वहां अपना प्रमाण पत्र दिखा सकते या उपयोग कर सकते हैं। बोर्ड ने 10वीं और 12वीं बोर्ड के बच्चों के लिए डिजिलॉकर को लेकर सभी स्कूल प्रबंधन को निर्देश दिया है।

बोर्ड ने बच्चों के लिए डिजिलॉकर में सभी प्रमाण पत्र उपलब्ध कराये हैं। सीबीएसई 10वीं और 12वीं की परीक्षा की मार्क्सशीट, माइग्रेशन को छात्र डिजिलॉकर से डाउनलोड कर सकते हैं। बोर्ड ने सभी प्रमाण पत्र डिजिलॉकर पर उपलब्ध करा दिए हैं। इसके लिए छात्र को आधार नंबर और रोल नंबर देना होगा। सीबीएसई स्कूल संगठन के पीआरओ सतीश कुमार ने बताया कि छात्रों के डॉक्यूमेंट्स डिजिलॉकर वेबसाइट पर उपलब्ध कराने से बच्चों को काफी सुविधा हो गई है। डिजिलॉकर के लिए कुछ प्रक्रिया है जिसे छात्रों को करना है।

बोर्ड ने मार्क्सशीट, माइग्रेशन सहित दूसरे शैक्षणिक दस्तावेज डिजिलॉकर पर अपलोड कर दिए हैं। वेबसाइट पर पंजीकरण के लिए छात्र के पास फोन नंबर और आधार कार्ड जरूरी है। जिन छात्रों को जल्दी मार्क्सशीट चाहिए, वे डिजिलॉकर से तुरंत निकाल सकते हैं। हालांकि, स्कूलों में भी प्रिटेंड कॉपी भेजी गई है। डिजिलॉकर में सभी सर्टिफिकेट एक ही दिन में मिल जाएंगे। पीआरओ ने बताया कि बोर्ड के डिजिलॉकर की वेबसाइट पर छात्र को साइनअप करना होगा। इसमें उन्हें अपना मोबाइल नंबर फीड करना होगा। इसके बाद आधार नंबर और सीबीएसई का रोल नंबर भी देना होगा। इससे छात्रों का इस वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन हो जाएगा और उनके सभी प्रमाण पत्र कंप्यूटर स्क्रीन पर नजर आने लगेंगे। डिजिलॉकर के लिए स्कूलों को भी वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन कराना है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Students will get the same on the base number