Students teachers and guardians go with the development of education - शिक्षा के विकास को छात्र, शिक्षक व अभिभावक साथ चलें DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शिक्षा के विकास को छात्र, शिक्षक व अभिभावक साथ चलें

शिक्षा के विकास को छात्र, शिक्षक व अभिभावक साथ चलें

महेश बाबू ने बिहार में शिक्षा का अलख जगाया था। बावजूद सूबे की शिक्षा में कई परिवर्तन की जरूरत है। ये बातें एमपी सिन्हा साइंस कॉलेज में महेश प्रसाद सिन्हा के 118वीं जयंती समारोह में मुख्य अतिथि नगर विकास एवं आवास मंत्री सुरेश शर्मा ने कही। कहा कि कुलाधिपति शिक्षा के समक्ष आ रही चुनौतियों से निबटने के लिए अपेक्षित वातावरण बनाने में जुटे हैं। उन्होंने कॉलेज के विकास के लिए रूपरेखा तैयार करने के लिए कहा। हर संभव मदद का आश्वासन दिया।

अध्यक्षता करते हुए डॉ. राजेन्द्र कृषि विवि के पूर्व वीसी गोपालजी त्रिवेदी ने कहा कि आज सरकार की नई उच्च शिक्षा नीति के तहत छात्रों, शिक्षकों और अभिभावकों को कदम से कदम मिलाकर चलना होगा। पूर्व मंत्री उषा सिन्हा ने कहा किसी संस्था के विकास के लिए शिक्षक, छात्रों व अभिभावकों के व्यावहारिक समन्वय की जरूरत है। पूर्व मंत्री डॉ. महाचंद्र प्रसाद सिंह ने कहा कि महेश बाबू एक अनुशासित कर्मयोगी और समर्पित समाज सेवी थे। पूर्व विधान पार्षद डॉ. नरेंद्र प्रसाद सिंह ने कहा शिक्षा जगत विकट परिस्थितियों से गुजर रहा है। इस पर सबको मिलकर विचार करना होगा। प्राचार्य प्रो. अमरेन्द्र ठाकुर ने स्वागत भाषण किया। संचालन डॉ. शेखर शंकर मिश्र ने किया। धन्यवाद ज्ञापन डॉ. जेपीएन देव ने किया। मौके पर डॉ. रामदिनेश प्रसाद शर्मा, डॉ. शत्रुघ्न ठाकुर, डॉ. रामनरेश प्रसाद सिंह, प्रो. ज्योति नारायण सिंह, डॉ. अमरनाथ शर्मा, डॉ. राजकुमार सिंह, डॉ.आलोक रंजन त्रिपाठी, राजीव रंजन, डॉ. विश्वनाथ शर्मा, अमूल्य कुमार भी थे।

विकास में महेश बाबू का योगदान अविस्मरणीय

हेमंत शाही स्मृति विकास मंच ने भदई निवास स्थित कैम्प कार्यालय में जयंती मनाई। अध्यक्ष अरविंद कुमार सिंह ने कहा कि वे प्रख्यात स्वतंत्रता सेनानी, सफल प्रशासक व अध्ययनशील चिंतक थे। नव बिहार के विकास में उनके योगदान को भुलाया नहीं जा सकता। मौके पर संस्था के सचिव ब्रजमोहन आजाद , हेमंत कुमार, नवीन मनियारी, डॉ. सुनील कुमार सिंह, संजय कुमार सिंह, विद्यानंद यादव, उमेश प्रसाद सिंह, निर्मला सिन्हा, छबीला सिन्हा, रेणु कुमारी भी उपस्थित थीं। धन्यवाद ज्ञापन जयशंकर प्रसाद ने किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Students teachers and guardians go with the development of education