DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीतामढ़ी की तत्कालीन जेल अधीक्षक की वेतन वृद्धि पर रोक

सीतामढ़ी की तत्कालीन जेल अधीक्षक इला इसर की तीन वेतन वृद्धि पर सरकार ने रोक लगा दी है। यह संकल्प बिहार सरकार के कारा एवं सुधार सेवाएं निरीक्षणालय के उप सचिव सह उप निदेशक(प्र.) अंजनी कुमार ने बुधवार को जारी किया है। इला इसर के खिलाफ लापरवाही एवं कर्तव्यहीनता का आरोप है।

संकल्प के अनुसार, मंडल कारा सीतामढ़ी की तत्कालीन और वर्तमान में भभुआ मंडल कारा की जेल अधीक्षक के खिलाफ 18 जुलाई 2017 को विभागीय कार्रवाई शुरू की गई थी। इसमें तिरहुत प्रमंडल के संयुक्त आयुक्त को विभागीय जांच का संचालन पदाधिकारी नियुक्त किया गया था। संचालन कमेटी के समक्ष इला इसर ने स्पष्टीकरण नहीं दिया। इसके बाद संचालन समिति ने यह समझा कि आरोपित अधिकारी को इस संबंध में कुछ नहीं कहना है। अपना पक्ष नहीं रखना है। इसके बाद उनके खिलाफ सरकारी सेवक (वर्गीकरण नियंत्रण एवं अपील) की नियमावली 2005 के निर्णयानुसार तीन साल के लिए वेतन वृद्धि पर रोक लगा दी गई। इसके लिए बिहार लोक सेवा आयोग से भी सहमति ली गई थी।

क्या था मामला :

एक सितंबर 2015 की रात में सीतामढ़ी जिला प्रशासन की ओर से मंडल कारा में छापेमारी की गई थी। इस छापेमारी के दौरान भारी मात्रा में आपत्तिजनक एवं निषिद्ध सामग्री बरामद हुई थी। इसमें इला इसर पर लापरवाही व कर्तव्यहीनता बरतने का आरोप लगा था। इसके बाद विभाग की ओर से उनके खिलाफ 14 फरवरी 2017 को प्रपत्र ‘क का गठन हुआ था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Stop the increase in salary of the then jail superintendent of Sitamarhi