DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिहार › मुजफ्फरपुर › देश में अघोषित आपातकाल की स्थिति : सिद्दीकी
मुजफ्फरपुर

देश में अघोषित आपातकाल की स्थिति : सिद्दीकी

हिन्दुस्तान टीम,मुजफ्फरपुरPublished By: Newswrap
Mon, 11 Oct 2021 10:00 PM
देश में अघोषित आपातकाल की स्थिति : सिद्दीकी

मुजफ्फरपुर। कार्यालय संवाददाता

आज देश में अघोषित आपातकाल की स्थिति है। इसके खिलाफ लोगों में उबाल है। लोग अलग-अलग रूप में सरकार के खिलाफ आंदोलन कर रहे हैं। ये बातें पूर्व मंत्री अब्दुल बारी सिद्दकी ने सोमवार को छाता चौक स्थित चित्रगुप्त एसोसिएशन परिसर में आयोजित लोकनायक जयप्रकाश नारायण जयंती समारोह में कहीं। जयप्रकाश विचार मंच की ओर से आयोजित समारोह का उद्घाटन करते हुए पूर्व मंत्री ने कहा कि बेरोजगारी, महंगाई व भ्रष्टाचार से लोगों में असंतोष गहरा रहा है। पूर्व मंत्री श्याम रजक ने कहा कि आज एक व्यापक आंदोलन की जरूरत है। असहमती जताने वालों को देश छोड़ देने की नसीहत दी जाती है।

पाठ्यक्रम से जेपी के विचारों को हटाया जाना गलत :

पूर्व कुलपति डॉ. अमरेंद्र नारायण यादव ने कहा कि जेपी विवि के पाठ्यक्रम से जेपी के विचारों को हटाया जाना गलत कदम है। राजद के वरिष्ठ नेता इकबाल मोहम्मद समी ने कहा कि जेपी आन्दोलन में सक्रिय हिस्सा लेने वालों को भी स्वतंत्रता सेनानी का दर्जा दिया जाना चाहिए। डॉ. हरेन्द्र कुमार ने कहा कि जेपी आन्दोलन से देश को एक नई दिशा मिली थी। आज भी उसकी प्रासंगिकता है। अध्यक्षता मंच के अध्यक्ष रमेश कुमार दीपू व संचालन मो. शब्बीर अंसारी ने किया। कार्यक्रम में विधायक अनिल सहनी, मो. इसराईल मंसूरी, पूर्व सांसद अर्जुन राय, पूर्व विधान पार्षद गणेश भारती, केदारनाथ प्रसाद, डॉ. रवि वर्मा व अनिल ओझा आदि ने अपनी बातें रखीं।

वहीं जिला राजद की ओर से पार्टी कार्यालय में आयोजित जयंती समारोह में नेताओं ने उनके चित्र पर माल्यार्पण किया। जिलाध्यक्ष रमेश गुप्ता की अध्यक्षता में आयोजित कार्यक्रम में गायघाट विधायक निरंजन राय, जयशंकर यादव, सुधीर यादव, सुरेश राम, भोला आदि शामिल थे। 74 जेपी आंदोलन संघर्ष समिति की ओर से शहीद खुदीराम बोस स्मारक स्थल पर जयंती समारोह किया गया। मौके पर प्रदेश अध्यक्ष विनोद वर्मा, पांचू महासेठ, रामप्रीत कुशवाहा व रत्नेश कुमार आदि ने जेपी को याद किया।

संबंधित खबरें