ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार मुजफ्फरपुरप्राकट्योत्सव पर मां बगलामुखी की विशेष आराधना

प्राकट्योत्सव पर मां बगलामुखी की विशेष आराधना

कच्चीसराय स्थित मां बगलामुखी मंदिर में बुधवार को प्राकट्योत्सव मनाया गया। मां बगलामुखी की विशेष आराधना के बाद महाशृंगार व महाआरती कर हवन किया...

प्राकट्योत्सव पर मां बगलामुखी की विशेष आराधना
हिन्दुस्तान टीम,मुजफ्फरपुरThu, 16 May 2024 01:45 AM
ऐप पर पढ़ें

मुजफ्फरपुर, हिन्दुस्तान प्रतिनिधि।
कच्चीसराय स्थित मां बगलामुखी मंदिर में बुधवार को प्राकट्योत्सव मनाया गया। मां बगलामुखी की विशेष आराधना के बाद महाशृंगार व महाआरती कर हवन किया गया। महंत देवराज ने बताया कि हल्दी रंग के जल से मां बगलामुखी का प्रकाट्य हुआ था। इसी कारण माता को पीतांबरी कहते हैं। बगला शब्द संस्कृत भाषा के वल्गा का अपभ्रंश है, जिसका अर्थ होता है दुल्हन। कुब्जिका तंत्र के अनुसार, बगला नाम तीन अक्षरों से निर्मित है व, ग, ला, 'व' अक्षर वारुणी, 'ग' अक्षर सिद्धिदा तथा 'ला' अक्षर पृथ्वी को संबोधित करता है। मां के अलौकिक सौंदर्य और स्तंभन शक्ति के कारण हीं इन्हें यह नाम प्राप्त है। गुरुवार इनका विशेष दिन माना जाता है। वहीं मां को दही व हल्दी चढ़ाने का विशेष विधान है, जिससे भक्तों के दुखों का नाश होता है। इस दौरान मंदिर के पुजारी रंजय झा, अखिलेश झा, देवनारायण मिश्र, संजय बाबा, भाजपा कार्यकर्ता प्रभात मालाकार व सौरभ आदि मौजूद थे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।