ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहार मुजफ्फरपुरमोतीपुर में टेंट व्यवसायी के पुत्र की हत्या, शव को बोरा में डाल रेल लाइन पर फेंक

मोतीपुर में टेंट व्यवसायी के पुत्र की हत्या, शव को बोरा में डाल रेल लाइन पर फेंक

टेंट व्यवसायी के पुत्र की हत्या कर बोरे में शव को रख रेलवे ट्रैक पर फेंक दिया गया। ट्रेन से कट शव दो हिस्सों में बंट गया। इसकी सूचना पर मोतीपुर थाना...

टेंट व्यवसायी के पुत्र की हत्या कर बोरे में शव को रख रेलवे ट्रैक पर फेंक दिया गया। ट्रेन से कट शव दो हिस्सों में बंट गया। इसकी सूचना पर मोतीपुर थाना...
1/ 2टेंट व्यवसायी के पुत्र की हत्या कर बोरे में शव को रख रेलवे ट्रैक पर फेंक दिया गया। ट्रेन से कट शव दो हिस्सों में बंट गया। इसकी सूचना पर मोतीपुर थाना...
टेंट व्यवसायी के पुत्र की हत्या कर बोरे में शव को रख रेलवे ट्रैक पर फेंक दिया गया। ट्रेन से कट शव दो हिस्सों में बंट गया। इसकी सूचना पर मोतीपुर थाना...
2/ 2टेंट व्यवसायी के पुत्र की हत्या कर बोरे में शव को रख रेलवे ट्रैक पर फेंक दिया गया। ट्रेन से कट शव दो हिस्सों में बंट गया। इसकी सूचना पर मोतीपुर थाना...
हिन्दुस्तान टीम,मुजफ्फरपुरTue, 27 Feb 2024 07:00 PM
ऐप पर पढ़ें

मोतीपुर, हिन्दुस्तान संवाददाता।
टेंट व्यवसायी के पुत्र की हत्या कर बोरे में शव को रख रेलवे ट्रैक पर फेंक दिया गया। ट्रेन से कट शव दो हिस्सों में बंट गया। इसकी सूचना पर मोतीपुर थाना पुलिस और आरपीएफ की टीम मौके पर पहुंची। इस दौरान मौके पर मौजूद व आसपास के लोगों से पुलिस टीम ने जानकारी ली। घटनास्थल पर पहुंच कर परिजनों ने शव की पहचान की। इसके बाद थाना पुलिस ने पंचनामा भरकर शव को पोस्टमार्टम के लिए एसकेएमसीएच भेजा।

पीएसआई सुजीत कुमार ने बताया कि मोतीपुर रेलवे स्टेशन के पूर्वी गुमटी नंबर 120 के आउटर सिंगनल के समीप रेलवे ट्रैक पर बोरो में बंद शव मिला। उसकी पहचान मोतीपुर के खन्त्री महानन्द टोले बगही निवासी जितेंद कुमार साह के पुत्र प्रकाश कुमार (23) के रूप में हुई है। वह पिता के साथ मिलकर टेंट का व्यवसाय करता था। वहीं, थानाध्यक्ष राजन कुमार पांडे ने बताया कि बोरे में रखा शव दो हिस्से में कटा था। उसको पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। घटनास्थल से प्रकाश का मोबाइल फोन मिला है। उसके लोकेशन की जांच की जा रही है। पीड़ित परिवार को लिखित शिकायत देने को कहा गया है। बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के सही कारण का पता चल पाएगा।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें