ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहार मुजफ्फरपुरस्मार्ट सिटी के निर्माण कार्यों ने बढ़ाया प्रदूषण, होगी कार्रवाई

स्मार्ट सिटी के निर्माण कार्यों ने बढ़ाया प्रदूषण, होगी कार्रवाई

दमघोंटू हवा : - निर्माण स्थल पर एनजीटी के प्रावधानों का हो रहा उल्लंघन

स्मार्ट सिटी के निर्माण कार्यों ने बढ़ाया प्रदूषण, होगी कार्रवाई
हिन्दुस्तान टीम,मुजफ्फरपुरFri, 01 Dec 2023 01:46 AM
ऐप पर पढ़ें

मुजफ्फरपुर, वरीय संवाददाता।
एनजीटी के दिशा-निर्देशों को ताक पर रखकर स्मार्ट सिटी के अलावा निजी स्तरों पर हो रहे निर्माण कार्य के खिलाफ कार्रवाई होगी। शहर में ऐसे 35 निर्माण स्थलों की पहचान की गई है, जिनके कारण प्रदूषण हो रहा है। इनमें स्मार्ट सिटी से जुड़ी आधा दर्जन जगहों में पुलिस लाइन-दादर रोड के अलावा मरीन ड्राइव, आयकर कार्यालय रोड आदि शामिल हैं। इनके अलावा अन्य निजी भवनों से जुड़े निर्माण स्थल हैं।

प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा किए गए सर्वे में यह सच्चाई सामने आई है। गुरुवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए हुई मीटिंग में सर्वे रिपोर्ट की समीक्षा के क्रम में नगर विकास विभाग के अपर निदेशक ने संबंधित मामलों में सख्ती के साथ कार्रवाई के निर्देश अपर नगर आयुक्त को दिए। एनजीटी के प्रावधान के तहत निर्माण स्थलों पर ग्रीन कवर लगाना है। सड़क पर निर्माण सामग्री या मलबा रखने पर प्रतिबंध है, लेकिन चिह्नित जगहों पर इसका पालन नहीं हो रहा है। इसके कारण लगातार हवा में धूलकण की मात्रा बढ़ रही है। नतीजतन कई सड़कों या इलाकों में सांस लेना भी मुहाल हो गया है।

जुर्माना के अलावा दर्ज हो सकती है एफआईआर :

एनजीटी के प्रावधानों के विपरित निर्माण कार्य होने पर जुर्माना के अलावा एफआईआर तक दर्ज होगी। नगर निगम को पांच हजार रुपए तक जुर्माना करने का अधिकार है। प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के स्तर से जुर्माना के अलावा आरोपी के खिलाफ मुकदमा किया जा सकता है।

बयान :

एनजीटी के प्रावधानों का पालन नहीं करने वालों पर कार्रवाई होगी। इस संबंध में जल्द ही प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी के साथ बैठक कर आगे की रणनीति बनाई जाएगी।

- नंदकिशोर चौधरी, अपर नगर आयुक्त

प्रदूषण : रेड जोन में शहर

शहर में वायु प्रदूषण की समस्या लगातार गंभीर बनी हुई है। बीते 24 घंटे से सबसे बुरा हाल बुद्धा कॉलोनी का है। बुधवार की रात 12 बजे से गुरुवार की रात तक लगातार रेड जोन में रहा। एक्यूआई का मीटर 300 से ऊपर ही रहा। एमआईटी/दाउदपुर कोठी इलाका रात से चार बजे भोर तक रेड जोन में रहा। इसके बाद सुबह 8 बजे और दोपहर 12 बजे एक्यूआई का मीटर 300 पार करने के बाद नीचे आ गया। कलेक्ट्रेट इलाका सुबह 10 बजे सिर्फ एक घंटा के लिए रेड जोन में आया। इसके बाद एक्यूआई का मीटर 300 से नीचे रहा।

एक्यूआई (पीएम 2.5) :

इलाका - औसत - न्यूनतम - अधिकतम

बुद्धा कॉलोनी - 328 - 307 - 344

एमआईटी/दाउदपुर - 260 - 113 - 370

कलेक्ट्रेट - 210 - 111 - 305

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें