DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सात निश्चय योजना की रफ्तार धीमी, अनियमिता व्याप्त

सरकार की महत्वकांक्षी सात निश्यय योजना की कार्य प्रगति को लेकर शुक्रवार को प्रखंडों समीक्षा बैठक हुई। जिले से गठित अधिकारियों की टीम ने योजना के तहत चल रहे कामों की जांच की और जनप्रतिनिधियों व अधिकारियों से रिपोर्ट मांगी। समीक्षा में काम की धीमी गति, गड़बड़ी, भ्रष्टाचार आदि सामने आने पर कार्रवाई का निर्देश दिया गया।

कांटी में एसडीओ पश्चिमी जे. प्रियदर्शनी के आदेश पर बीडीओ उमा भारती ने कांटी नगर पंचायत के वार्ड 10 में नल-जल योजना की जांच की। पार्षद लक्ष्मी देवी, पूर्व पार्षद श्रीराम पांडेय समेत अन्य ग्रामीणों ने बताया कि नलजल योजना में घटिया कार्य किया गया है। नल लगने के बाद भी पानी नहीं मिल रहा है। जगह जगह खोदे गए गड्ढे व सड़क की मरम्मत नहीं करायी गई है। जांच के दौरान नल जल योजना का पाइप महज डेढ़ से दो फीट गड्ढे में डाला गया मिला। बीडीओ ने कहा कि जांच रिपोर्ट एसडीओ को भेजी जाएगी।  वहीं पारू में बीडीओ संजय कुमार सिन्हा की अध्यक्षता में समीक्षा बैठक हुई। बीडीओ ने कहा कि जिन वार्ड सदस्यों को योजना की राशि मुहैया करायी गई है वहां 15 फरवरी तक काम पूरा होना चाहिए। शिकायत पर बीडीओ ने पंचायत सचिव को काम नहीं करने वाली एजेंसी को चिह्नित कर कार्रवाई करने को कहा।

इधर, मड़वन के मनरेगा भवन परिसर में बीडीओ की अध्यक्षता में सात निश्चय योजना की समीक्षा हुई। पंचायतों में चल रहे नल-जल, गली-नली व सड़क समेत योजना में वार्ड क्रियान्वयन समिति की भूमिका व उसके अधिकार को बताया गया। वही इसमें आ रही परेशानी के संबंध में बारी-बारी से सभी वार्ड सदस्यों, वार्ड सचिव एवं मुखियों से फीडबैक लिया गया। बीडीओ ने काम से अधिक राशि निकासी करने वालों पर सीधे कार्रवाई की बात कही।

वहीं मोतीपुर में डीटीओ ने सात निश्चय योजना की समीक्षा की। चयनित पंचायतों में 31 जनवरी तक कार्य पूरा करने का निर्देश दिया। गड़बड़ियों पर कार्रवाई की बात कही।

औराई में महिला मुखिया की जगह प्रतिनिधियों ने दिया जबाव

औराई। प्रखंड परिसर स्थित ई किसान भवन में एसडीओ पूर्वी कुंदन कुमार ने समीक्षा बैठक की। सभी पंचायत के मुखियों, वार्ड सदस्य व पंस सदस्यों से पंचायतवार सात निश्चय योजना के तहत चल रहे कार्यों की समीक्षा की। बैठक में महिला मुखियों की जगह उनके पति व पुत्रों ने योजनाओं की जानकारी दी। एसडीओ ने हर घर नल-जल, पक्की नाली, पीसीसी, बिजली समेत अन्य योजनाओं में तेजी लाने का निर्देश दिया। खाते से निकासी व जमीन पर कार्य की प्रगती की जानकारी ली।

मीनापुर में समीक्षा बैठक का मुखियों ने किया बहिष्कार

मीनापुर। बीडीओ अमरेंद्र कुमार की अध्यक्षता में जल नल योजना व नाला निर्माण की समीक्षा हुई। मुखिया संघ के उपाध्यक्ष चन्देश्वर साह ने बीडीओ पर मुखियों की उपेक्षा का आरोप लगाते हुए बैठक का बहिष्कार किया। इससे पहले बैठक में बताया गया कि जलनल योजना के तहत प्रखंड की कुल 374 वार्डो का चयन किया गया था। इसमें से अबतक मात्र 81 वार्डो में ही काम पूरा हो सका है। जबकि 158 वार्डो में काम प्रगति पर है। अन्य योजनाओं का हाल भी इसी तरह है। बीडीओ ने लापरवाही व गड़बड़ी पर कार्रवाई की चेतावनी दी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Seven decision-making plans slow irregularities