DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिहार › मुजफ्फरपुर › सावन की शिवरात्रि छह अगस्त को, जलाभिषेक से पूरी होगी मनोकामना
मुजफ्फरपुर

सावन की शिवरात्रि छह अगस्त को, जलाभिषेक से पूरी होगी मनोकामना

हिन्दुस्तान टीम,मुजफ्फरपुरPublished By: Newswrap
Sun, 01 Aug 2021 09:10 PM
सावन की शिवरात्रि छह अगस्त को, जलाभिषेक से पूरी होगी मनोकामना

मुजफ्फरपुर। कार्यालय संवाददाता

सावन का महीना विशेष रूप से भगवान शिव को समर्पित है और इस महीने में पूजा-पाठ करना अत्यंत लाभदायक माना जाता है। कहा जाता है कि इस मास में पड़ने वाली शिवरात्रि बहुत अनुकूल है। इस शिवरात्रि को कामना पूर्ति शिवरात्रि माना गया है। इस बार यह शिवरात्री छह अगस्त को है। हिंदू मान्यताओं के अनुसार, सावन मास की शिवरात्रि पर भगवान शिव की पूजा करने से भक्तों की सभी इच्छाएं पूरी होती हैं। सावन शिवरात्रि पर भगवान शिव का जलाभिषेक करना भक्तों के लिए लाभकारी माना गया है। इस दिन भगवान शिव और माता पार्वती की पूजा करना मंगलमय माना जाता है।

पं. प्रभात मिश्र बताते हैं कि हर महीने कृष्ण पक्ष चतुर्दशी तिथि मासिक शिवरात्रि कही जाती है। सभी राशियों के लोग व्रत रखते हैं। लेकिन, सावन में शिव आराधना के महत्व को देखते हुए श्रावण शिवरात्रि पर इस व्रत पूजन की विशिष्टता काल विशेष में पूजा करने से कई गुना पुण्य मिलता है। इस दिन भगवान शिव के अभिषेक की विशेष महत्व है। दूध, दही, घी, शहद से अभिषेक करने के साथ पुष्प गुच्छ के मालाओं से शृंगार किया जाता है। जलाभिषेक करने से भगवान शिव प्रसन्न होते हैं तथा अपने भक्तों की सभी मनोकामनाओं को पूरा करते हैं। कुंवारी कन्याएं योग्य वर की प्राप्ति के लिए यह व्रत रखती हैं।

संबंधित खबरें