DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मॉल व अपार्टमेंट की मापी न होने से राजस्व की क्षति

शहर में हाल के दिनों में बने मॉल व अपार्टमेंट की मापी नगर निगम नहीं कर सका है। इस कारण उनके टैक्स निर्धारण का काम भी अधूरा है। इससे निगम को राजस्व की क्षति हो रही है। मेयर सुरेश कुमार ने कहा कि बार-बार निर्देश दिए जाने के बाद भी इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। वहीं, स्वकर निर्धारण कार्य में भी टैक्स दारोगा और तहसीलदार रुचि नहीं ले रहे हैं।

मेयर ने शुक्रवार को निगम सभागार में राजस्व वसूली की समीक्षा करते हुए कहा कि पूरे शहर में बड़ी संख्या में गृह स्वामी नये होल्डिंग के लिए परेशान हैं। ऐसे लोगों से तत्काल स्वकर निर्धारण का आवेदन प्रपत्र लेकर नये होल्डिंग का निर्धारण करें। इससे निगम की आमदनी में बढ़ोतरी होगी। इसके लिए मेयर ने विशेष रूप से प्रधान सचिव अशोक कुमार सिंह को निर्देश दिया। मेयर ने कहा कि सरकार की तरफ से लगातार निगम के आय को बढ़ाने के लिए आउटसोर्सिंग का दवाब जारी है। फिर भी कर्मचारी हित में यह कदम नहीं उठाया जा रहा है। अब अगर निगम की आमदनी नहीं बढ़ी व यही रवैया बना रहा तो आउटसोर्सिंग के लिए मजबूर होना पड़ेगा। बैठक में तहसीलदारों की समस्याओं को प्रधान सहायक ने उठाया। साथ ही मापी के लिए अमीन की कमी की बात भी बताई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Revenue loss due to non-completion of mall and apartment