DA Image
Sunday, December 5, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार मुजफ्फरपुरनिलंबित दारोगा के खिलाफ कोर्ट में रिपोर्ट दाखिल, सात दिसंबर को सुनवाई

निलंबित दारोगा के खिलाफ कोर्ट में रिपोर्ट दाखिल, सात दिसंबर को सुनवाई

हिन्दुस्तान टीम,मुजफ्फरपुरNewswrap
Thu, 28 Oct 2021 03:22 AM
निलंबित दारोगा के खिलाफ कोर्ट में रिपोर्ट दाखिल, सात दिसंबर को सुनवाई

मुजफ्फरपुर। कार्यालय संवाददाता

आय से अधिक संपत्ति मामले में सारण के डोरीगंज थाने के निलंबित दारोगा संजय प्रसाद के खिलाफ बुधवार को आर्थिक अपराध इकाई ने विशेष निगरानी कोर्ट में छापेमारी व एफआईआर आदि की रिपोर्ट दाखिल की है। मामले की जांच आर्थिक अपराध के इंस्पेक्टर सुरेश प्रसाद राम करेंगे। भ्रष्टाचार उन्मूलन की धाराओं के तहत निलंबित दारोगा पर एफआईआर दर्ज कराई गई है। मामले में सात दिसंबर को विशेष कोर्ट में सुनवाई होगी।

पश्चिमी चंपारण के साठी थाना के सम्होता निवासी निलंबित दारोगा मुजफ्फरपुर, सीतामढ़ी व सारण में कार्य कर चुके हैं। फिलहाल, उनकी तैनाती मुंगेर डीआईजी कार्यालय में है। आर्थिक अपराध की टीम ने निलंबित दारोगा के पुलिस में योगदान देने के वर्ष 2009 से लेकर अबतक के आय-व्यय को खंगाला है। इस दौरान वेतन से उन्होंने साठ लाख रुपये प्राप्त किए। पत्नी के नाम से मुजफ्फरपुर के माड़ीपुर में जमीन की खरीदारी की। इस कीमत 29 लाख 80 हजार बताई गई। बैंकों में सात लाख दस हजार रुपये निवेश किया। उनके पास कुल 12 लाख 74 हजार 914 रुपये की चल संपत्ति पायी गई। उन्होंने 35 लाख 18 हजार तीस रुपये अपने व परिजनों के जीवनयापन पर खर्च किया।

आर्थिक अपराध इकाई की पश्चिमी चंपारण स्थित पैतृक घर व मुजफ्फरपुर के माड़ीपुर स्थित किराये के मकान पर छापेमारी के दौरान आय से 24 लाख 82 हजार 944 रुपये अधिक राशि अर्जित करने का मामला सामने आया है। निलंबित दारोगा ने मई 2015 से लेकर अक्टूबर 2017 तक अपने वेतन की राशि को छुआ तक नहीं। दो साल पांच माह तक उन्होंने वेतन की राशि खाते से निकासी नहीं की, जबकि उनकी पत्नी गृहिणी है। दोनों पुत्र पढ़ाई कर रहे हैं।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें