ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार मुजफ्फरपुररेल पुलिस ने लोस चुनाव के मद्देनजर सीमाई इलाकों में बढ़ाई सक्रियता

रेल पुलिस ने लोस चुनाव के मद्देनजर सीमाई इलाकों में बढ़ाई सक्रियता

रेल पुलिस ने लोकसभा चुनाव के मद्देनजर सीमाई इलाकों में अपनी सक्रियता बढ़ा दी है। मानव तस्करी एवं बालश्रम, अवैध शराब, मादक पदार्थ, जाली नोट के तस्करी...

रेल पुलिस ने लोस चुनाव के मद्देनजर सीमाई इलाकों में बढ़ाई सक्रियता
हिन्दुस्तान टीम,मुजफ्फरपुरThu, 15 Feb 2024 01:30 AM
ऐप पर पढ़ें

मुजफ्फरपुर, वरीय संवाददाता।
रेल पुलिस ने लोकसभा चुनाव के मद्देनजर सीमाई इलाकों में अपनी सक्रियता बढ़ा दी है। मानव तस्करी एवं बालश्रम, अवैध शराब, मादक पदार्थ, जाली नोट के तस्करी पर रोक तथा जयनगर व नेपाल से आने-जाने वाली ट्रेनों व यात्रियों की विशेष जांच का निर्देश मुजफ्फरपुर रेल एसपी डॉ. कुमार आशीष ने दिया है। यही नहीं, संदिग्धों की निगरानी के लिए विभिन्न एजेंसियों से सूचना का आदान-प्रदान करने को सोशल मीडिया पर एक विशेष ग्रुप बनाया है।

इस ग्रुप में विभिन्न खुफिया एजेंसी के साथ नेपाल बॉर्डर पर प्रतिनियुक्त एसएसबी के अधिकारी, रेल पुलिस और आरपीएफ के पदाधिकारी को शामिल किया है। रेल पुलिस को आशंका है कि लोस चुनाव के दौरान नेपाल सीमा से जाली नोटों की खेप आ सकती है। इसकी रोकथाम के लिए गहन निगरानी जरूरी है। खासकर नेपाल मूल के लोगों से जयनगर, रक्सौल आदि स्टेशनों पर रोको-टोको अभियान के तहत पूछताछ करनी और उनसे भारत आने के संबंध में विस्तार से जानकारी जुटाने का निर्देश रेल एसपी ने दिया है।

वीसी से हुई थी समन्वय बैठक :

रेल एसपी के नेतृत्व में बीते सोमवार को वीसी के माध्यम से सीतामढ़ी एसपी, एसएसबी, आरपीएफ, रेल थाना पदाधिकारियों और खुफिया एजेंसियों के साथ समन्वय बैठक हुई थी। इसमें कई तरह के सुझाव एजेंसियों और एसएसबी की ओर से रेल एसपी को मिले थे। इसके बाद रेल एसपी ने सुरक्षा व्यवस्था को चौकस करने को लेकर निर्देश जारी किया है।

सीतामढ़ी एसपी और मधुबनी डीएसपी भी हुए थे शामिल :

बैठक में रेल पुलिस के अलावा आरपीएफ के मंडल सुरक्षा आयुक्त समस्तीपुर, पुलिस उपाधीक्षक (मुख्यालय) मधुबनी, कमांडेंट एसएसबी 18 बटालियन राजनगर, 20 बटालियन सीतामढ़ी, 21 बटालियन बगहा, 44 बटालियन नरकटियागंज, 47 बटालियन रक्सौल, 48 बटालियन जयनगर, 51 बटालियन सीतामढ़ी, 56 बटालियन बथनाहा, 65 बटालियन बेतिया, 71 बटालियन मोतिहारी में उपस्थित थे। इसके अतिरिक्त बचपन बचाओ आंदोलन व सर्वो प्रयास संस्था के राज्य समन्वयक बिहार, रेल पुलिस उपाधीक्षक समस्तीपुर, बेतिया और समस्तीपुर, रेल पुलिस निरीक्षक समस्तीपुर, सुगौली, नरकटियागंज, रेल थानाध्यक्ष नरकटियागंज, रक्सौल, सीतामढ़ी, जयनगर, दरभंगा, मधुबनी, सीतामढ़ी, मोतिहारी, बेतिया एवं अचंल निरीक्षक मौजूद थे।

रेल पुलिस को यह करना है :

-सीमावर्ती स्टेशनों पर आने वाले नेपाली मूल के लोगों की करें सघन जांच

-रोको-टोको अभियान चलाकर संदिग्धों की करनी है विशेष निगरानी

-तस्कर से बाल मजदूर को मुक्त कराने के लिए एनजीओ के साथ समन्वय

-जीआरपी, आरपीएफ, एसएसबी, स्थानीय जिला पुलिस व खुफिया एजेंसी से तालमेल

-सीमावर्ती इलाकों में रेल पुलिस द्वारा समय-समय पर जागरूकता अभियान चलाना

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।