DA Image
10 नवंबर, 2020|12:15|IST

अगली स्टोरी

राधेश्याम शुक्ला बने एडीजे दो, वीरेंद्र कुमार एडीजे तीन

default image

सिविल कोर्ट प्रशासन ने डेढ़ दर्जन अपर जिला व सत्र न्यायाधीश की कोर्ट संख्या में फेरबदल किया है। वरिष्ठता क्रम के अनुसार फेरबदल किए गए हैं। एडीजे 6 राधेश्याम शुक्ल एडीजे दो बनाए गए हैं।

इसी तरह एडीजे नौ वीरेंद्र कुमार एडीजे तीन, एडीजे आठ पुनीत कुमार गर्ग एडीजे चार, एडीजे तीन राकेश कुमार एडीजे पांच, एडीजे चार केपी राणा एडीजे छह, एडीजे दस दीपक कुमार एडीजे सात, एडीजे सात संजय कुमार एडीजे आठ, एडीजे पांच संजीव कुमार पांडेय एडीजे नौ, एडीजे 13 रविशंकर कुमार एडीजे दस, एडीजे दो मुकुंद कुमार एडीजे 11, एडीजे 11 सूर्यकांत तिवारी एडीजे 12, एडीजे 18 उमेश मणि त्रिपाठी एडीजे 13, एडीजे 15 ऋचा भार्गव एडीजे 14, एडीजे 16 रचना श्रीवास्तव एडीजे 15 व एडीजे 17 संकाश चंद्र एडीजे 16 बनाए गए हैं।

रिक्त चल रहे एडीजे 12 को 17, रिक्त एडीजे 14 को 18 व रिक्त फास्ट ट्रैक कोर्ट प्रथम व द्वितीय का प्रभार एडीजे 15 को सौंपा गया है। पूर्व से चल रहे एक्साइज, निगरानी व अन्य विशेष कोर्ट के संबंध में किसी तरह का फेरबदल नहीं किया गया है।

आठ थानों की जिम्मेवारी सौंपी गई

मुजफ्फरपुर। सिविल कोर्ट प्रशासन ने जिले के आठ थानों से जुड़े मामले की संचालन के लिए अलग-अलग न्यायिक अधिकारियों को जिम्मेवारी सौंपी है। सब जज चार शैलेंद्र कुमार सकरा थाने, सब जज दस संजय कुमार मुशहरी, सब जज नौ विपिन लावनिया मिठनपुरा, प्रथम श्रेणी न्यायिक दंडाधिकारी स्वाती दुबे महिला थाना (पूर्वी अनुमंडल), शंभू कुमार गुप्ता औराई, हेमंत कुमार बोचहां, संजना गांधी विश्वविद्यालय व आरती कुमारी कटरा थाने से जुड़े मामले में सुनवाई करेंगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Radheshyam Shukla became ADJ two Virendra Kumar ADJ three