DA Image
1 अक्तूबर, 2020|11:24|IST

अगली स्टोरी

निजी व अल्पसंख्यक स्कूलों को भी मिला इंस्पायर अवार्ड का टास्क

निजी व अल्पसंख्यक स्कूलों को भी मिला इंस्पायर अवार्ड का टास्क

सरकारी स्कूल ही नहीं बल्कि सभी निजी स्कूल जो शिक्षा विभाग से रजिस्टर्ड हैं, उन्हें पांच-पांच बच्चों के प्रोजेक्ट को इंस्पायर अवार्ड के लिए भेजने का टास्क दिया गया है। इसके साथ ही अल्पसंख्यक और स्थापना अनुमति प्राप्त स्कूलों को भी इससे जोड़ा गया है। गुरुवार को विद्या बिहार स्कूल में शिक्षा विभाग की ओर से आयोजित कार्यशाला में ट्रेनिंग देते हुए यह निर्देश दिया गया। डीईओ अब्दुसलाम अंसारी ने सभी बीईओ को इसकी ट्रेनिंग दी। डीईओ ने कहा कि इंस्पायर अवार्ड को लेकर बच्चों के प्रोजेक्ट भेजने की तिथि सरकार की ओर से बढ़ा दी गई है। पहले 30 सितम्बर तक ही तिथि थी, लेकिन अब इसे 15 अक्टूबर तक कर दिया गया है। सभी के प्रयास से जिला बिहार में तीसरे स्थान पर आ गया है। 20 दिन पहले इस जिले में 100 आवेदन भी नहीं थे। अब संख्या सैकड़ों में है। 1200 निजी स्कूलों की बनाई गई सूची ::: डीईओ ने कहा कि एफलिएटेड और विभाग से रजिस्टर्ड निजी स्कूलों की संख्या करीब 1200 है। इन सभी स्कूल को पांच-पांच बच्चों का नाम भेजना है। सभी स्कूल की सूची बनाई गई है। सभी हाईस्कूल की भी सूची तलब की गई है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Private and minority schools also got the task of Inspire Award