DA Image
27 अक्तूबर, 2020|12:54|IST

अगली स्टोरी

सरकारी स्कूलों में उर्दू शिक्षकों की वर्तमान संख्या के आधार पर होगा पदस्थापन

सरकारी स्कूलों में शैक्षणिक सत्र 20-21 के लिए कक्षा एक से 12वीं तक के उर्दू भाषी बच्चों की संख्या मांगी गई थी। मगर अब तक वर्गवार बच्चों की संख्या नहीं मिलने पर उर्दू निदेशालय ने नाराजगी जताई है। निदेशक इम्तियाज अहमद करीमी ने इस संबंध में डीईओ को पत्र लिखा है। 15 दिन का समय दिया गया है।  वहीं सरकार ने सरकारी स्कूलों में कार्यरत उर्दू शिक्षकों की संख्या से संबंधित रिपोर्ट भी मांगी है। बच्चों की संख्या के आधार पर अनुपातिक रूप से शिक्षक हैं या नहीं, इससे इसका पता चलेगा और इसी के आधार पर उर्दू शिक्षकों का पदस्थापन भी किया जाएगा। सरकार ने इसके लिए विभाग को एक फॉर्मेट उपलब्ध कराया है। इसमें कक्षावार बच्चों की संख्या और शिक्षकों की संख्या भरकर भेजनी है।

 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Posting will be based on the current number of Urdu teachers in government schools