DA Image
4 जून, 2020|5:16|IST

अगली स्टोरी

कोरोना से दहशत : चीन से लौटे दो छात्रों के लिए गए सैंपल

चीन से लौटे जिले के सिवाइपट्टी व शहर के नया टोला के दो युवकों को कोरोना वायरस की जांच के लिए मंगलवार को एम्बुलेंस से एसकेएमसीएच लाया गया। अस्पताल में बने विशेष आइसोलेशन वार्ड में दोनों की जांच की गयी। दोनों में कोरोना के लक्षण की पुष्टि नहीं हुई है। एसीएमओ डॉ. विनय कुमार वर्मा व डब्ल्यूएचओ के मेडिकल अधिकारी डॉ. आनंद गौतम ने सूचना मिलने पर युवकों की जांच कराई। सेफ्टी के लिए दोनों युवकों को अलग-अलग एम्बुलेंस से लाया गया। एसकेएमसीएच के मेडिसीन विभाग के सहायक प्रोफेसर डॉ.अमीत कुमार ने दोनों की जांच कर सैंपल लिये। जांच में कोरोना का कोई लक्षण नहीं मिलने पर दोनों को एम्बुलेंस से ही घर वापस भेजा गया। दोनों  युवक चीन में एमबीबीएस थर्ड इयर के छात्र हैं। एक कोलकाता वहीं दूसरा दिल्ली होकर घर पहुंचा है। हालांकि, दोनों की एयरपोर्ट पर भी जांच की गई थी। जानकारी मिलने के बाद डब्ल्यूएचओ की टीम ने उन्हें जांच के लिए एसकेएमसीएच लायी। यहां माइक्रोबायोलॉजी विभाग के वायरोलॉजी लैब में जांच के लिए सैंपल भेजा गया। वहां से पुणे भेजा जाएगा।  मेडिसिन विभाग के डॉ. अमीत कुमार ने बताया कि कोरोना के जो सामान्य लक्षण हैं, दोनों युवकों में नहीं मिले हैं।  एसकेएमसीएच के अधीक्षक डॉ. सुनील कुमार शाही ने बताया कि जिले के सिवाइपट्टी व शहर के नया टोला के दो युवकों में कोरोना जांच के लिए उन्हें लाया गया था। सैंपल लिया गया है। पुणे के वायरोलॉजी लैब में जांच के लिए भेजा जाएगा। दोनों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। डब्ल्यूएचओ के मेडिकल अधिकारी ने बताया कि युवक चीन में थे। सतर्कता वश जांच की गई। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Panic from Corona: Samples for two students who returned from China