DA Image
3 जुलाई, 2020|11:28|IST

अगली स्टोरी

पांच महीने से एक लाख छात्रों को रिजल्ट का इंतजार

पांच महीने से एक लाख छात्रों को रिजल्ट का इंतजार

बीआरए बिहार विश्वविद्यालय के करीब एक लाख छात्रों को पांच महीने से स्नातक पार्ट-वन की परीक्षा के रिजल्ट का इंतजार है। इन छात्रों की परीक्षा जनवरी में हुई थी। रिजल्ट के लिए छात्र कॉलेज से विवि तक चक्कर लगा रहे हैं। बताया जा रहा है कि प्रैक्टिकल के अंकों के कारण इनका रिजल्ट फंसा हुआ है। पांच दर्जन कॉलेजों में से अभी डेढ़ दर्जन कॉलेजों से प्रैक्टिकल का अंक नहीं आ सका है। विवि अधिकारियों का कहना है कि एक सप्ताह में बचे हुए कॉलेजों का प्रैक्टिकल अंक मंगाकर जुलाई के मध्य तक रिजल्ट जारी किया जा सकता है। करीब एक लाख छात्रों की परीक्षा जनवरी में ली गई। इसके बाद कॉपियों की जांच शहर के विभिन्न केन्द्रों पर कराई गई। कॉलेजों में प्रैक्टिकल परीक्षाएं कराई गईं। इसके बाद लॉकडाउन के कारण कॉलेज बंद हो गये और मार्क्स कॉलेज में ही रह गये। हालांकि, 15 जून के बाद तमाम कॉलेजों के कार्यालय खुल गये। विवि की ओर से अंक भेजने के लिए कहा गया। लेकिन डेढ़ दर्जन से अधिक कॉलेजों की ओर से अब तक अंक नहीं आ सका है। बताया जा रहा है कि थ्यौरी परीक्षाओं का अंक तैयार है। प्रैक्टिकल अंक आते ही रिजल्ट जारी कर दिया जाएगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:One lakh students waiting for results from five months