DA Image
21 अक्तूबर, 2020|2:22|IST

अगली स्टोरी

आज से क्षीरसागर में शयन करने जाएंगे भगवान विष्णु, थमेगी शहनाई

वशयनी एकादशी के साथ बुधवार को चातुर्मास शुरू हो जाएगा। भगवान विष्णु चार माह के लिए क्षीरसागर में शयन करने चले जाएंगे। शादी-विवाह समेत सारे मांगलिक कार्यों पर रोक लग जाएगी। भगवान विष्णु के निद्रा में चले जाने से भगवान भोलेनाथ व अन्य देवी-देवताएं सृष्टि का कार्यभार संभालेंगे। इस बीच में अधिकमास पड़ने के कारण दो आश्विन महीना भी पड़ेगा। हालांकि, चातुर्मास में घर का निर्माण कार्य, गृहप्रवेश, नये दुकान का उद्घाटन व वाहनों का क्रय-विक्रय किया जा सकता है।
चार माह बाद 25 नवंबर को देवोत्थान एकादशी के दिन भगवान विष्णु जागेंगे। इसी के साथ मांगलिक कार्य फिर से शुरू हो जाएंगे। 26 नवंबर से शादी की शहनाई बजनी शुरू हो जाएगी जो 11 दिसंबर तक चलेगा। इसके बाद एक माह का खरमास लग जाएगा। महावीर व ऋषिकेश पंचांग का हवाला देते हुए पं. प्रभात मिश्र, पं. जयकिशोर मिश्र, पं. शत्रुघ्न   तिवारी बताते हैं कि इस साल नवंबर व दिसंबर मिलाकर 11 दिन ही शहनाई बजेगी। नवंबर में 26, 29, 30 और दिसंबर में 1, 2, 6, 7, 8, 9, 10, 11 तारीख तक ही विवाह मुहूर्त है। साल 2021 में जनवरी से मार्च तक एक भी लग्न नहीं है। इस कारण अगले साल अप्रैल में शादी के बंधन में युवक-युवतियां बंध सकेंगे।

 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Lord Vishnu will go to sleep in Kshirsagar from today the marriage will stop