DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  मुजफ्फरपुर  ›  कोविड ने युवाओं को बनाया तनावग्रस्त, योग शरीर व मन के लिए असरकारक
मुजफ्फरपुर

कोविड ने युवाओं को बनाया तनावग्रस्त, योग शरीर व मन के लिए असरकारक

हिन्दुस्तान टीम,मुजफ्फरपुरPublished By: Newswrap
Thu, 17 Jun 2021 07:01 PM
कोविड ने युवाओं को बनाया तनावग्रस्त, योग शरीर व मन के लिए असरकारक

मुजफ्फरपुर। वरीय संवाददाता

आरडीएस कॉलेज में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को लेकर गुरुवार से पांच दिवसीय वेबिनार सह वर्कआउट की शुरुआत की गई। कॉलेज के दर्शनशास्त्र विभाग की ओर से आयोजित कार्यक्रम में सुबह में पहले वर्चुअल योग कराया गया। इसके बाद वेबिनार का आयोजन हुआ। मुख्य वक्ता व योग ट्रेनर इंजी. विकाश कुमार ने कहा कि योग शरीर और मन दोनों से जुड़ी व्याधियों के लिए असरकारक है। प्रत्येक व्यक्ति को आज की भागदौड़ भरी जिंदगी और अव्यवस्थित जीवन शैली में कुछ समय अपने लिए भी निकालकर योग जैसी प्राकृतिक प्रक्रिया को अपनाना चाहिए।

अध्यक्षता करते हुए कॉलेज की प्राचार्य प्रो. अमिता शर्मा ने कहा कि कोविड-19 महामारी से उपजी अनिश्चितता ने देश के युवा वर्ग को तनावग्रस्त कर दिया है। उन्हें अपने जीवन और भविष्य को लेकर काफी चिंताएं सता रही हैं। लोग अपनी स्वास्थ्य समस्याएं एवं डर से उबर नहीं पा रहे हैं। ऐसे में सभी लोगों से अपनी दिनचर्या में योग को शामिल करना चाहिए। पांच दिवसीय वर्कशॉप के आयोजन से कॉलेज एवं विश्वविद्यालय के छात्र-छात्राओं को तनाव मुक्त एवं सार्थक जीवन जीने का रास्ता मिलेगा। विषय प्रवेश दर्शनशास्त्र की विभागाध्यक्षा डॉ. इंद्रा कुमारी ने किया। कार्यक्रम समन्वयक डॉ. पयोली व डॉ. रमेश विश्वकर्मा ने कार्यक्रम से जुड़ी बारीकियों से सबको रूबरू करवाया। डॉ. रंजना कुमारी, डॉ. लक्ष्मी साह ने विचार रखें। संचालिका व धन्यवाद डॉ. पयोली ने किया। डॉ. रजनीश गुप्ता, डॉ. रामकुमार, डॉ. रेखा श्रीवास्तव, डॉ. सुमनलता, अंजली, अर्जुन ठाकुर सहित काफी संख्या में छात्र इससे जुड़े।

संबंधित खबरें