Keep voters' confidential information safe - मतदाताओं की गोपनीय जानकारी रखें सुरक्षित DA Image
18 नबम्बर, 2019|8:46|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मतदाताओं की गोपनीय जानकारी रखें सुरक्षित

फेसबुक डाटा लीक के बाद चुनाव आयोग मतदाताओं की गोपनीय जानकारी की सुरक्षा को लेकर सतर्क हो गया है। आयोग ने निर्वाचन विभाग को मतदाताओं की गोपनीयता सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है। इसके साथ ही ईिपक बनाने वाले वेंडरों से नन डिस्कलोजर एग्रीमेंट करने को कहा है, ताकि ईिपक बनाने वाले वेंडर के माध्यम से मतदाताओं की गोपनीय जानकारी सार्वजनिक न होने पाये। विभाग ने सभी डीएम व निर्वाचन पदाधिकारी को वेंडर के साथ एग्रीमेंट कर उसकी कॉपी शीघ्र प्रस्तुत करने को कहा है। डाटा लीक कांड के बाद चुनाव आयोग ने मतदाताओं की जानकारी लीक होने से बचाने की कवायद तेज कर दी है। आयोग ने राज्य निर्वाचन आयोग को कहा है कि राज्यों में ईिपक नर्माण में लगी एजेंसियां नेशनल साईबर सिक्योरिटी पॉलिसी के तहत आती हैं। इन एजेंसियों पर साईबर सिक्योरिटी रेग्युलेशन लागू होता है। ऐसे में ईिपक निर्माण में लगीं एजेंसियों से नन डिस्कलोजर एग्रीमेंट आवश्यक है। आयोग ने ईिपक के अलावा निर्वाचन से संबंधित सभी डाटा को सुरक्षित करने को कहा है, ताकि वह किसी के हाथ नहीं लगे। आयोग को आशंका है कि कोई भी एजेंसी या दल निर्वाचन संबंधी डाटा का दुरुपयोग कर सकता है। निर्वाचन विभाग के उपमुख्य निर्वाचन पदाधिकारी विवेकानंद झा ने इसके लिए सभी डीएम को तुरंत कार्रवाई कर रिपोर्ट देने का निर्देश दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Keep voters' confidential information safe