DA Image
15 अगस्त, 2020|11:00|IST

अगली स्टोरी

तिलक व आजाद की जीवनी पाठयपुस्तकों में करे शामिल

default image

लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक व चंद्रशेखर आजाद की जयंती पर गुरुवार को नागरिक मोर्चा ने शहीद स्मारक स्थल पर समारोह का आयोजन किया। मोर्चा के सदस्यों ने दोनों को भावभीनी श्रद्धांजलि दी। मोर्चा के महासचिव मोहन प्रसाद सिन्हा ने कहा कि दोनों क्रांतिकारियों के जीवन से युवा पीढ़ी को प्रेरणा लेनी चाहिए। सरकार से मांग है कि इन दोनों की जीवनी पाठ्यपुस्तकों में शामिल करें। उन्होंने कहा कि चंद्रशेखर आजाद में बचपन से ही राष्ट्रीयता की भावना भरी हुई थी। हर समय फिरंगी सरकार को इस बात का एहसास कराते रहे कि इस देश के नौजवान जाग चुके हैं। वे अंग्रेजी हुकूमत को बर्दाश्त नहीं करेंगे। समाज सुधारक व शिक्षाविद् बाल गंगाधर तिलक की विद्वता बहुमुखी थी। तिलक मैदान में उनकी प्रतिमा स्थापित की जानी चाहिए। मौके पर परमेश्वरी देवी, आशा सिन्हा, अमित कुमार, सुरेश कुमार गुप्ता, आरएन झा भी थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Include biographies of Tilak and Azad in textbooks