DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गुरुद्वारा में धूमधाम से मना गुरुग्रंथ साहिब का प्रथम प्रकाशोत्सव

रमना स्थित गुरुद्वारा में सोमवार को सिखों के प्रमुख धर्म ग्रंथ गुरुग्रंथ साहिब का प्रथम प्रकाशोत्सव धूमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर सुबह सात बजे 48 घंटे के अखंड पाठ का विधिवत समापन किया गया। रागी जत्था भाई रवीन्द्र सिंह व सुखविन्दर सिंह के अलावा महिला मंडली की सदस्यों ने हरिकीर्तन व भजन से संगत को निहाल कर दिया।इस दौरान गुरु के जयकारें से पूरा गुरुद्वारा परिसर गूंजता रहा। दूरदर्राज से आए श्रद्धालुओं ने मत्था टेक सुख-समृद्धि की कामना की। गुरुद्वारा कमेटी अध्यक्ष सरदार अवतार सिंह ने गुरुग्रंथ साहिब के महत्व पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि इस दिन सिखों के पांचवें गुरु अर्जन देव महाराज ने ग्रंथ साहिब का संपादन कर अमृतसर के स्वर्ण मंदिर में स्थापित किया था। उसी उपलक्ष्य में हर साल यह प्रकाशोत्सव मनाया जाता है। मौके पर गुरुद्वारा कमेटी सचिव गुरजीत सिंह साई, कोषाध्यक्ष पंजाब सिंह आदि भी थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:First light festival of gurudhrant sahib celebrated with gigantic gurudwara