DA Image
31 अक्तूबर, 2020|7:11|IST

अगली स्टोरी

बूढ़ी गंडक में पानी बढ़ते दोबारा शुरू हुआ पलायन

बूढ़ी गंडक में पानी बढ़ते दोबारा शुरू हुआ पलायन

सप्ताह भर में बूढ़ी गंडक के जलस्तर में काफी बढ़ोतरी हुई है। इसके साथ ही लोगों का पलायन तेज हो गया है। दो माह के अंदर दूसरी बार तेजी से बढ़ रहे जलस्तर के कारण दादर, सिकंदरपुर अखाड़ाघाट, आश्रमघाट, चंदवारा, शेखपुर व नाजिरपुर आदि इलाकों के लोग दहशत में हैं। इन इलाकों से एक बार फिर बड़ी संख्या में लोग पलायन करने लगे हैं। बुधवार को भी बढ़ी संख्या में लोगों ने कपड़ा, अनाज व कीमत सामान के साथ पलायन किया।

नदी के तटीय इलाके के मोहल्लों ने रहने वाले लोगों ने बांध आदि ऊंचे स्थान पर डेरा डालना शुरू कर दिया है। अखाड़ाघाट रोड के शंभू साह ने बताया कि बीते एक सप्ताह से तेजी से पानी बढ़ा है। करीब आधा दर्जन मोहल्लों में पानी प्रवेश कर चुका है। ऐसी स्थिति बीते 25 जुलाई से बनी थी। दो माह बाद पानी पुन: बढ़ गया है। इससे लोगों के पास पलायन के अलावा कोई चारा नहीं है। वहीं, स्लुइस गेट बंद होने से सिकंदरपुर प्रभात जर्दा फैक्ट्री रोड व आसपास के गलियों में नाले का पानी सड़क पर आ गया है। जलजमाव से लोगों को आवागमन में परेशानी हो रही है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Exodus started again due to increasing water in old Gandak