DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डायरिया के बाद अब कै-दस्त व निमोनिया का प्रकोप

डायरिया के प्रकोप में आंशिक कमी आई है, लेकिन कै-दस्त की समस्या बढ़ गई है। बुधवार को डायरिया के कुल 20 नए मरीज अस्पतालों में भर्ती हुए। वहीं इतने ही मरीजों को अस्पतालों से छुट्टी दे गई। सबसे अधिक मरीज सिकंदपुर व अखाड़ाघाट से आ रहे हैं। सदर अस्पताल से दस मरीजों को डिस्चार्ज कर दिया गया है। वहीं चार नए मरीज भर्ती किए गए हैं। इसी तरह एसकेएमसीएच में पांच व केजरीवाल में 11 डायरिया के नए मरीज भर्ती हुए हैं। केजरीवाल में निमोनिया के 10 मरीज भी भर्ती हुए हैं। एक रोज पहले निमोनिया के 16 मरीज भर्ती हुए थे। अस्पताल के प्रशासक बीबी गिरि ने बताया कि निमोनिया को लेकर अलर्ट कर दिया गया है। अस्पताल के डॉ. नीरज कुमार ने बताया कि इंफेक्शन के कारण बच्चों को निमोनिया अधिक हो रहा है। इधर, सदर अस्पताल के ओपीडी में दम फुलने की समस्या से पीड़ित मरीज इलाज के लिए आ रहे हैं। डॉक्टरों का कहना है कि इसका मुख्य कारण इंफेक्शन है। दूसरी ओर मरीजों ने आरोप लगाया कि अभी तक कफ सिरप नहीं मिल रहा है। इस बारे में डीएस डॉ. एनके चौधरी का कहना है कि खरीदारी नहीं होने से मरीजों को कफ सिरप दवा नहीं मिल रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Disease and pneumonia outbreak after Diarrhea