DA Image
21 सितम्बर, 2020|5:18|IST

अगली स्टोरी

प्रसव प्रोत्साहन राशि घोटाला: नहीं खुला लेखापाल का कक्ष, कई काम व भुगतान ठप

default image

प्रसव प्रोत्साहन राशि घोटाला सामने आने के पांच दिन बाद मंगलवार को भी मुशहरी सीएचसी में लेखापाल के कक्ष और भवन का ताला नहीं खुल सका। लेखापाल अवधेश कुमार लगातार सीएचसी से गैरहाजिर रहे। हालांकि, जांच टीम की अनुशंसा पर डीएम ने लेखापाल के कक्ष को खुलवाने के लिए इन्वेंट्री आदेश निकाला है। इस संबंध में एसडीओ पूर्वी कुंदन कुमार ने मुशहरी के प्रखंड सहकारिता पदाधिकारी माजिद अंसारी की मजिस्ट्रेट के रूप में प्रतिनियुक्ति की है।

सीएचसी प्रभारी डॉ. उपेंद्र चौधरी ने बताया कि इन्वेंट्री की कार्रवाई शुरू हो गई है। बुधवार को ताला खोले जाने की उम्मीद है। उन्होंने बताया कि लेखापाल के गायब होने और उनके कक्ष में ताला लगे होने के कारण एनआरएचएम के तहत होने वाले सभी भुगतान लंबित हो गए हैं। इसमें आशा का भुगतान, प्रसव राशि, परिवार नियोजन, कालाजार, छिड़काव आदि भुगतान लंबित हैं। कई सारे कार्यालय कार्य में भी दिक्कत आ रही है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Delivery incentive scam no open accountant room many work and payment stalled