DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

संदिग्ध एईएस के दो बच्चों की मौत, एक नया भर्ती

संदिग्ध एईएस के दो बच्चों की मौत, एक नया भर्ती

एईएस बीमारी का कहर शुरू हो गया है। मंगलवार को संदिग्ध एईएस के दो बच्चों की मौत हो गई। इलाज के क्रम में एक बच्चे ने एसकेएमसीएच में तो एक बच्ची ने जूरन छपरा स्थित केजरीवाल अस्पताल में दम तोड़ दिया। वहीं, पूर्वी चंपारण के एक बच्चे को गंभीर स्थिति में केजरीवाल में भर्ती कराया गया है। एईएस का संदिग्ध मरीज मानकर उसका इलाज किया जा रहा है। उधर, एसकेएमसीएच में भर्ती बोचहां के सलहा गांव के चार वर्षीय आयुष राज का भी इलाज जारी है। एईएस के संदिग्ध मरीज बोचहां के पराती गांव के छह साल के मो. कामरान को सोमवार को एसकेएमसीएच में भर्ती कराया गया था। उसे केजरीवाल अस्पालत से रेफर किया गया था। वहीं, पूर्वी चंपारण चकिया के मानसी छपरा गांव की तीन वर्षीय अमृता कुमारी मंगलवार की दोपहर 11 बजे भर्ती हुई थी। हालत काफी गंभीर होने के कारण दोनों की मौत हो गई। जांच नहीं होने से एईएस व जेई बीमारी की पुष्टि नहीं हुई है। वहीं, दोपहर साढ़े 12 बजे पूर्वी चंपारण के बरदारा गांव के पांच वर्षीय अमोद कुमार को चमकी व बेहोशी की हालत में केजरीवाल अस्पताल में भर्ती कराया गया। दोनों मरीजों का अस्पताल के शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. अनुपमा जायसवाल, डॉ. नीरज कुमार और डॉ. चैतन्य कुमार की टीम ने इलाज शुरू किया और एईएस होने की आशंका जताई। दोनों बच्चों की हालत काफी खराब होने से जांच नहीं हो सकी। पांच घंटे के इलाज के बाद अमृता की मौत हो गई। वहीं, अमोद की हालत भी काफी गंभीर बनी हुई है। केजरीवाल अस्पताल के प्रशासनिक अधिकार आरके मिश्रा ने बताया कि अभी मृत बच्ची व भर्ती अमोद की जांच नहीं हुई है। इस कारण उन्हें एईएस का मरीज नहीं कहा जा सकता है। दोनों को गंभीर हालत में भर्ती कराया गया था। तीन डॉक्टरों की टीम ने इलाज किया। इसमें एक की जान चली गई है। इसकी सूचना स्वास्थ्य विभाग को दे दी गई है। इधर, सूचना के बाद सीएस डॉ. ललिता सिंह ने नोडल अधिकारी को अलर्ट कर दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Death of two children of suspected AES, a new recruitment