अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिनदहाड़े हत्या व लूट से साहेबगंज में दहशत

दिनदहाड़े हत्या व लूट से साहेबगंज में दहशत

केशव चौक पर दिनदहाड़े कस्टोडियन की हत्या कर 18 लाख की लूट से साहेबगंज बाजार के दुकादार दहशत में हैं। उन्हें भी अब अपनी सुरक्षा का डर सताने लगा है। वे पुलिस की चौकसी पर सवाल उठा रहे हैं। अब अपराधियों की गिरफ्तारी पुलिस के लिए चुनौती बन गई है।

दुकानदारों ने बताया कि गोलियों की आवाज पर पहले उन्हें कुछ समझ नहीं आया। कस्टोडियन के चिल्लाने से उनका ध्यान गया। तबतक अपराधी वारदात को अंजाम देकर भाग चुके थे। दुकानदारों ने बताया कि दोनों अपराधियों की उम्र करीब 18 से 22 वर्ष के बीच की रही होगी। सभी पतले-दुबले से थे। उनमें से एक हेलमेट पहने था जबकि दूसरे ने कपड़े से मुंह बांध रखा था। फिल्मी स्टाइल में पूरे वारदात को अंजाम दिया। बताया यह जाता है कि अपराधियों ने कस्टोडियन को विरोध करने तक का मौका नहीं दिया।

वारदात को अंजाम देने के बाद अपराधी केसरिया चौक की ओर भागे। लोगों ने उन्हें घेरने का प्रयास किया। लेकिन, बाइक पर पीछे बैठे अपराधी ने जैसे ही हथियार निकाला और गोली फायर करने का इशारा किया तो लोग पीछे हट गये।

कंपनी में आठ माह से कर रहे थे नौकरी : कस्टोडियन सुनील कुमार ठाकुर बरुराज थाना के सिसवा के रहने वाले थे। आठ महीने से सिक्योर वैल्यू कंपनी में नौकरी कर रहे थे। उनके पास एक बंदूक थी जिसे फिलहाल साहेबगंज पुलिस ने जब्त कर लिया है। इससे कंपनी में नौकरी करने से पहले सुनील शहर के एक डॉक्टर के यहां गार्ड की नौकरी करते थे।

कांटी व बरुराज के एटीएम में डाला था कैश

गुरुवार को कैश वैन पर एटीएम अधिकारी जियाउद्दीन, सोनू, चालक वेद प्रकाश के साथ कस्टोडियन सुनील कुमार ठाकुर सवार थे। साहेबगंज पहुंचने से पूर्व कांटी व बरुराज के एटीएम में कैश लोड किया था। फिलहाल पुलिस कैश वैन के चालक खरौना डीह निवासी वेद प्रकाश से थाने पर पूछताछ कर रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Day-to-day murder and loot terror in Sahebganj