DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हिन्दुस्तान ओलंपियाड में सम्मानित हो चहके बच्चे

हिन्दुस्तान ओलंपियाड में सम्मानित हो चहके बच्चे

प्रतिभा उभारने को हुए ‘हिन्दुस्तान ओलंपियाड 2018 के सम्मान समारोह के दौरान बच्चों में काफी उत्साह दिखा। बुधवार को एलएस कॉलेज ऑडिटोरियम में हुए समारोह के दौरान पुरस्कार लेते ही इन बच्चों की खुशी का ठिकाना न रहा। 36 बच्चों का चयन ओलंपियाड में अवार्ड देने के लिए हुआ था।

एलएस कॉलेज के प्राचार्य डॉ. ओपी राय, एलआईसी के सीनियर डिविजन मैनेजर परमेन्द्र हरि व सेल्स मैनेजर आरके शरण ने बच्चों को मेडल व प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया। आपके अपने अखबर ‘हिन्दुस्तान की ओर से आयोजित सम्मान समारोह में बच्चों के साथ अभिभावकों के चेहरे भी खिले थे। बच्चों की इस प्रतिभा उभारने के लिए अभिभावकों ने ‘हिन्दुस्तान को धन्यवाद दिया। पिछले साल एलआईसी प्रायोजित ‘हिन्दुस्तान ओलंपियाड में विभिन्न स्कूल के 3500 बच्चे शामिल हुए थे। यह ओलंपियाड कक्षा एक से 12 वीं तक के बच्चों के बीच हुआ था। इसमें हर कक्षा से टॉप थ्री का सेलेक्शन हुआ। कुल 36 बच्चों को सम्मान समारोह के लिए चुना गया। इसमें टॉपर रहे हर कक्षा एक-एक बच्चे को 2100 रुपये की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। कार्यक्रम में सात स्कूल को गुरुकुल अवार्ड से भी सम्मानित किया। दो घंटे तक चले इस सम्मान समारोह के लिए बच्चे सुबह दस बजे से ही एलएस कॉलेज पहुंचने लगे थे।

किसी भी क्षेत्र के लिए मैट्रिक व इंटर का बेस जरूरी

सम्मान समारोह के मुख्य अतिथि प्राचार्य डॉ. ओपी राय ने बच्चों का मार्गदर्शन किया। उन्होंने कहा कि किसी भी क्षेत्र में जाने के लिए मैट्रिक व इंटर ही बेस होता है। यूपीएससी, बीपीएससी, मेडिकल, इंजीनियरिंग व विज्ञान के क्षेत्र में जाने के लिए शुरुआती शिक्षा के साथ गहराई तक ज्ञान हासिल करना अनिवार्य है। उन्होंने स्कूलों के प्राचार्यों व शिक्षकों से कहा कि स्कूलों में बच्चों को जैसा बनाना चाहेंगे वे बनेंगे। स्कूली शिक्षा पर बहुत कुछ निर्भर करता है। स्कूलों पर निर्भर है वे बच्चों का ब्रेन कितना अच्छा तैयार करते हैं। प्राचार्य ने कहा कि ‘हिन्दुस्तान के इस आयोजन से बच्चों में ऊर्जा का संचार हुआ है। इसका लाभ भविष्य में इन बच्चों को मिलेगा। इसे वे आगे आने वाली हर समस्या का बेतहर तरीके से सामना कर सकते हैं। मौके पर एलआईसी के सीनियर डिविजन मैनेजर परमेन्द्र हरि व सेल्स मैनेजर आरके शरण ने भी बच्चों को टिप्स दिये। कॉलेज के अंग्रेजी के शिक्षक डॉ. संजीव मिश्रा ने बच्चों का मार्गदर्शन व उत्साहवर्धन किया।

गुरुकुल अवार्ड विजेता स्कूल

स्कूल का नाम जिला

विवेकानंद प्रेप पब्लिक

स्कूल मुजफ्फरपुर

प्रतिभा बिहार एकेडमी दरभंगा

संत जेवियर्स सीनियर

सेकेंडरी हाई स्कूल जयनगर, मुधबनी

नोट्रेड्रम पब्लिक स्कूल बेतिया

संत फ्रांसिस स्कूल मोतिहारी

दिल्ली पब्लिक स्कूल समस्तीपुर

संत जोसेफ स्कूल सीतामढ़ी

ये बच्चे हुए सम्मानित

स्कूल का नाम बच्चे

ग्रीनडल मिशन स्कूल वाणी कुमारी

परमहंस स्कूल रोहित, आदित्य राज

डीएवी स्कूल सत्यम राज, दिव्यांश रौशन आनंद, प्रियांशु मिश्रा

किड्स कैंप प्रेप स्कूल खुशी कुमारी

विवेकानंद स्कूल अर्णव, कृष्ण कुमार

लक्ष्य पब्लिक स्कूल शिवम तिवारी

माउंट लिटेरा मुकुंद माधव, अनिकेत

दून सीनियर सें. स्कूल सौरभ कुमार

प्रभात तारा स्कूल प्रिया राज

डीपीएस पब्लिक स्कूल आदित्य राज

दिल्ली पब्लिक वर्ल्ड स्कूल आरव कुमार

संत जोसफ सी. से. स्कूल हर्ष कुमार

प्राइमस पब्लिक स्कूल रितु राज

पेंट्रोक्रेटर एकेडमी नितेश कुमार

केडी पब्लिक स्कूल राजा कुमार

साईं राम कॉमर्स क्लासेज हर्ष, रवि

उज्जवल विद्यापीठ ऋषिकेश कुमार

मॉर्डर्न पब्लिक स्कूल मोहन कुमार

जीडी मदर इंटरनेशन विदिशा कश्यप

आरपीएस प्लस टू श्वेता कुमारी

देश की सबसे बड़ी बीमा कंपनी है एलआईसी

वर्ष 1956 में स्थापित भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी ऑफ इंडिया) देश में सबसे बड़ी बीमा कंपनी है। यह बीमा उत्पादों जैसे एंडामेंट प्लान, टर्म प्लान, मनी बैक प्लान, पेंशन प्लान इत्यादि की एक विस्तृत श्रृंखला पेश करते हैं। कुछ वर्षों में एलआईसी ने कई ऐसी उपलब्धियां हासिल की हैं, जो मील के पत्थर साबित हुए और जीवन बीमा व्यवसाय की विभिन्न पहलुओं में अभूतपूर्व निष्पादन का रिकार्ड स्थापित किया। आज एलआईसी के देश में 2048 शाखा कार्यालय, 113 डिवीजनल कार्यालय, 8 क्षेत्रीय कार्यालय और 1381 सैटेलाइट कार्यालय हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Children to be honored in the Olympics Olympiad