DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फर्स्ट डिविजन लाने में जिले के बच्चे अव्वल

फर्स्ट डिविजन लाने में जिले के बच्चे अव्वल

इंटर परीक्षा में फर्स्ट डिविजन लाने में मुजफ्फरपुर के बच्चे इस बार अव्वल रहे हैं। इसमें मुजफ्फरपुर के बच्चों ने कई जिलों को पीछे छोड़ दिया है। बोर्ड की ओर से जारी इंटर रिजल्ट में प्रथम श्रेणी लाने वाले बच्चों की संख्या में जबरदस्त इजाफा हुआ है। इस दमदार प्रदर्शन से मुजफ्फरपुर के बच्चों ने पिछले कई साल के रिकार्ड को तोड़ा दिया है। पिछले साल जिले में 40 हजार बच्चे इंटर परीक्षा में शामिल हुए थे जिसमें महज 3716 परीक्षार्थियों को ही फर्स्ट डिविजन मिला था। इस बार 46,942 परीक्षार्थी शामिल हुए थे जिसमें 41,660 परीक्षार्थी सफल हुए हैं। इनमें 20,148 छात्र-छात्राओं को फर्स्ट डिविजन मिला है। वैशाली समेत कई जिलों को मुजफ्फरपुर के बच्चों ने टक्कर देते हुए बाजी मारी है। वैशाली में 46,778 परीक्षार्थी सफल हुए हैं और इसमें 14,612 को फर्स्ट डिविजन मिला है। इसी तरह समस्तीपुर में 47,303 परीक्षार्थी इंटर परीक्षा में सफल हुए हैं और इसमें महज 17,162 परीक्षार्थियों को ही फर्स्ट डिविजन मिला है। सीतामढ़ी में 22,460 परीक्षार्थी सफल हुए हैं जिसमें 12,141 छात्र-छात्राओं को फर्स्ट डिविजन मिला है। पूर्वी चंपारण में 39,244 परीक्षार्थी सफल हुए हैं और यहां 19,742 को फर्स्ट डिविजन मिला है।

10 साल से अधिक का रिकार्ड टूटा

फर्स्ट डिविजन लाने में जिले में पिछले 10 साल से अधिक का रिकार्ड टूटा है। पिछले 10-12 सालों में यह आंकड़ा बमुश्किल 12-14 हजार तक पहुंच पाया था। बोर्ड की परीक्षा की बदली प्रक्रिया का फायदा भी परीक्षार्थियों को मिला है। परीक्षार्थियों की इस सफलता पर डीईओ डॉ. विमल कुमार ठाकुर ने सभी छात्रों के साथ अभिभावकों को भी बधाई दी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Children of the district to bring first division