DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बाल वैज्ञानिकों ने नई तकनीक से पेश की भविष्य की झांकी

बाल वैज्ञानिकों ने नई तकनीक से पेश की भविष्य की झांकी

शेम्फोर्ड फ्यूचरिस्टिक स्कूल के सीनियर ब्रांच डुमरी में शनिवार को साइंस जोन एवं रोबोटिक्स प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। उद्घाटन करते हुए दो बिहार बटालियन के लेफ्टिनेंट कर्नल आरके सिंह ने कहा कि इस तरह के आयोजन से बच्चों में वैज्ञानिक सोच विकसित होती है। उन्हें अपनी प्रतिभा दिखाने का अवसर मिलता है।

प्रदर्शनी में बच्चों ने समय की उपयोगिता पर फोकस करते हुए ऊर्जा के वैकल्पिक स्रोतों व इनके उपयोग को बेहतर ढंग से प्रदर्शित किया। बच्चों ने अलग-अलग तरह के मॉडल बनाकर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया। नई तकनीक से भविष्य की झांकी पेश की। नौंवी के छात्रों ने ऑटोमेटेड रेलवे क्रॉसिंग, स्मार्ट डस्टबिन व हाइड्रोलिक प्लांट बनाया था। आठवीं के छात्रों ने थ्री डी प्रिंटर प्रोजेक्ट बनाया था। लेजर लाइट डिफेंस की भी प्रदर्शनी दिखाई। रोबोटिक्स शिक्षक की प्रेरणा से ब्लूटूथ से चलनेवाली कार बनाई। इसके अलावा हाइड्रोलिक ब्रिज, सेंसर कार, स्मार्ट रुफ, रेन वाटर डिटेक्टिंग अलार्म, पवन चक्की आदि प्रोजेक्ट पेश किये।

स्कूल की निदेशक रिचा शर्मा ने कहा कि आज विज्ञान का युग है। इस तरह के आयोजन से बच्चों में विज्ञान के प्रति रुचि बढ़ेगी। इसका मुख्य उद्देध्य छात्रों के बीच रचनात्मक शैली का विकास करना है। कार्यक्रम में प्रधानाचार्य, शिक्षक व रोबोटिक्स विभाग के शिक्षक ने अहम योगदान दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Child Scientists Introduce New Techniques