Child detainees of observation home will be screened for age - पर्यवेक्षण गृह के बाल बंदियों की होगी उम्र जांच DA Image
19 फरवरी, 2020|12:33|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पर्यवेक्षण गृह के बाल बंदियों की होगी उम्र जांच

सिकंदरपुर स्थित बाल सुधार एवं पर्यवेक्षण गृह में रहने वाले बाल बंदियों के उम्र की जांच होगी। उनके जन्म प्रमाण पत्र की भी जांच करायी जाएगी। इसे लेकर तिरहुत रेंज के आईजी गणेश कुमार ने तिरहुत रेंज के एसएसपी व एसपी को निर्देश दिया है। साथ ही इन्हें जेजे बोर्ड के डीपीओ से बंदियों के मैट्रिक सर्टिफिकेट या फिर निगम, प्रखंड व अस्पताल से निर्गत जन्म प्रमाण पत्र मांगने को कहा गया है। 
आईजी ने बताया कि अबतक बाल बंदियों की ओर से स्कूल से निर्गत प्रमाण पत्र आयु के सत्यापन के लिए अधिकांश मामले में दिया जाता रहा है। यह किसी वर्ग या क्लास में एडमिशन का होता है जो जेजे एक्ट के प्रावधान में गलत है। इसमें बंदियों का जन्म प्रमाण पत्र होना चाहिए। अगर जन्म प्रमाण पत्र नहीं है तो वैसे बाल बंदियों की मेडिकल बोर्ड गठित कर उम्र जांच करायी जाएगी। मालूम हो कि, बाल सुधार एवं पर्यवेक्षण गृह में कई बंदी आयु सीमा को पार कर चुके हैं। इसके बावजूद उसमें बाल बंदी बनकर रहते हैं।  
बैंक लूट की घटना में भी रहे हैं शामिल 
पुलिस रिकार्ड के मुताबिक, पर्यवेक्षण गृह में मुजफ्फरपुर के अलावा वैशाली(हाजीपुर), सीतामढ़ी, मोतिहारी, बेतिया, शिवहर, दरभंगा के बाल बंदी को रखा जाता है। विशेष आदेश पर इनके अलावा दूसरे जिले के बंदी को भी रखा जाता है। हाल के दिनों में इसमें बंद बाल बंदी शिवहर में बैंक लूट और हाजीपुर में सोना लूट की घटना को अंजाम दे चुके हैं। इसके अलावा भी कई संगीन कांडों को अंजाम दे चुके हैं। 
कई बड़ी वारदातों को बाल बंदी दे चुके हैं अंजाम

चाइल्ड प्रोटेक्शन पदाधिकारी चंद्रदीप कुमार ने बताया कि बाल बंदियों की संख्या हर दिन घटते बढ़ते रहती है। तकरीबन 100 से अधिक बाल बंदी इसमें हैं जो विभिन्न मामलों के आरोपित हैं। उन्होंने बताया कि इन्हें कई श्रेणियों में रखा जाता है। 7-11, 12-14, 14-16 और 16 से 18 वर्ष आयु वर्ग के बंदियों को एक साथ रखा जाता है। इसके अलावा जो बंदी 16 से 18 आयु वर्ग के भीतर के हैं और जधन्य मामले के आरोपित हैं उन्हें विशेष सेफ्टी कक्ष में रखा जाता है। यह व्यवस्था सिर्फ शेखपुरा में है। यहां जेजे बोर्ड की अनुमति से भेजा जाता है। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Child detainees of observation home will be screened for age