DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बागमती में उफान से कटरा-औराई में आवागमन बाधित

Flood at Katra

बागमती के जलस्तर में मंगलवार को अचानक हुई वृद्धि से बाढ़ जैसी स्थिति उत्पन्न हो गई है। कटरा व औराई में पानी बढ़ने से लोगों में दहशत है। कटरा में कई मार्गों पर पानी चढ़ गया है। औराई में बागमती परियोजना से विस्थापित गांव के लोग निचले हिस्से से निकलकर बांध पर शरण ले रहे हैं।

कटरा के बकुची स्थित बागमती नदी पर बने पीपा पुल के उत्तरी हिस्से में सड़क पर करीब दो फीट पानी चढ़ गया है। इससे वाहनों का परिचालन देर शाम से ठप हो गया। बेनीबाद-कटरा-औराई मुख्य सड़क में पतारी के पास सड़क पर बागमती का पानी बह रहा है। लोगों के समक्ष आवागमन की समस्या उत्पन्न हो गई है।

बकुची पीपा पुल पर जान जोखिम में डालकर लोग आवागमन कर रहे हैं। वहीं पतारी में मुख्य सड़क पर कई जगहों पर पानी बह रहा है। प्रखंड की उत्तरी 14 पंचायत के समक्ष आवागमन का संकट उत्पन्न हो गया है। बसघट्टा, चंगेल, नगवारा, कटाई, लखनपुर, पहसौल, खंगुराडीह, बर्री, तेहवारा, बंधपुरा, बेलपकोना, यजुआर समेत दर्जनों गांव के लाखों की आबादी को एक बार फिर आवागमन की चिंता सताने लगी है। बागमती बांध के भीतर बसे मोहनपुर, बसघट्टा, बकुची, पतारी, माधोपुर, खंगुरडीह आदि गांव में पानी के फैलाव से लोगों में दहशत है।

विस्थापित बांध पर ले रहे शरण

औराई। बागमती के जलस्तर में वृद्धि से तटबंध के अंदर बसे विस्थापितों पर एक बार फिर से बाढ़ का खतरा मंडराने लगा है। पानी बढ़ने से बभनगामा पश्चिमी, हरनी टोला, जोंकी बुजुर्ग, महुआरा, बाड़ा खुर्द, महुआरा, बाड़ा बुजुर्ग, चैनपुर, महेशवाड़ा, चहुंटा, कश्मीरी टोला, पटोरी समेत दर्जनभर विस्थापित गांवों के हजारों परिवार दहशत में हैं। गांव से निकलकर लोग मवेशियों के साथ बांध पर शरण ले रहे हैं। बभनगामा पश्चिमी के शमी महबूब,आफताब आलम आदि ने बताया कि मुख्य व उपधारा में दोपहर से तेज वृद्धि हो रही है। जल संसाधन विभाग के कर्मी कर्मवीर सिंह ने बताया कि नदी में सामान्य से 83 सेमी. की वृद्धि हुई है। सीओ शंकर लाल विश्वास ने बताया कि सभी घाटों पर जरूरत के अनुसार नाव का परिचालन कराया जा रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Bombs exploded in Katra-Aaiai in Bagmati