DA Image
2 अगस्त, 2020|12:58|IST

अगली स्टोरी

प्रशासन की लापरवाही से तबाही मचा रही बाया नदी

default image

प्रखंड के उत्तरी क्षेत्रों में एवं पारू तथा साहेबगंज प्रखंड क्षेत्र में पिछले कुछ दिनों से बाया नदी में लगातार तबाही मचाए हुए हैं। कई जगहों पर बाया नदी का तटबंध टूट चुका है, इसके कारण दर्जनों गांवों में नदी का पानी फैल गया है। प्रशासनिक अधिकारियों की एक छोटी सी चूक के कारण बाया नदी का विकराल रूप देखने को लोग विवश हैं। जानकारी के अनुसार सरैया स्थित एनएच-722 में बाया नदी पर सदियों पुराना पुल टूट गया था। उत्तर बिहार के कई जिलों को छपरा से जोड़ने के लिए यह पुल लाइफ लाइन का काम करता है। यातायात प्रभावित नहीं हो इसको लेकर पुल के समानांतर नदी में एक पक्का डायवर्सन बनाया गया था। उसके बाद पथ निर्माण विभाग, बिहार सरकार के द्वारा पुल का निर्माण कराया गया था। पुल बनने के बाद उससे होकर आवागमन शुरू हो गया। लेकिन आज तक पुल के समीप बना डायवर्सन को पूरी तरह से तोड़ा नहीं गया। इसके कारण पुल के समीप नदी का पानी सीमित मात्रा में ही निकल रहा है। परिणामस्वरूप पुल के उत्तरी क्षेत्र में पानी चारों तरफ फैलना शुरू हो गया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Baya river causing havoc due to negligence of administration