DA Image
23 अक्तूबर, 2020|8:32|IST

अगली स्टोरी

कांग्रेस नेता को जमानत

default image

बीते लोकसभा चुनाव के दौरान धारा 144 का उल्लंघन करते हुए कलेक्ट्रेट परिसर में धरना देने व नारेबाजी करने के मामले में गुरुवार को कांग्रेस नेता मयंक कुमार मुन्ना ने विशेष कोर्ट में सरेंडर किया। इसके बाद उन्हें बेल पर मुक्त कर दिया गया। उनके अधिवक्ता प्रिय रंजन उर्फ अन्नू ने बताया कि मामले को लेकर कलेक्ट्रेट परिसर में प्रतिनियुक्त मजिस्ट्रेट कटरा के कृषि समन्वयक विश्वजीत कुमार सक्सेना ने 25 अप्रैल 2019 को नगर थाने में एफआईआर दर्ज कराई थी। पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ. रघुवंश प्रसाद सिंह के पक्ष में धरना देने व नारेबाजी से मामला जुड़ा है।