DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  मुजफ्फरपुर  ›  कटही पुल के पास दुकान बंद कराने गयी पुलिस पर हमला, दो पदाधिकारी को बनाया बंधक
मुजफ्फरपुर

कटही पुल के पास दुकान बंद कराने गयी पुलिस पर हमला, दो पदाधिकारी को बनाया बंधक

हिन्दुस्तान टीम,मुजफ्फरपुरPublished By: Newswrap
Fri, 18 Jun 2021 04:50 AM
कटही पुल के पास दुकान बंद कराने गयी पुलिस पर हमला, दो पदाधिकारी को बनाया बंधक

मुजफ्फरपुर। वरीय संवाददाता

शहर के कटही पुल सब्जी मंडी के समीप गुरुवार को सरकारी आदेश का उल्लंघन कर खोले गये कपड़ा दुकान को बंद कराने गयी काजी मोहम्मदपुर पुलिस पर दुकानदार व उसकी मां सहित अन्य लोगों ने हमला बोल दिया। लोगों ने दो पदाधिकारी को बंधक बना उनके साथ दुर्व्यवहार करते हुए गाली गलौज की। बाद में पहुंची पुलिस टीम की सख्ती के बाद दोनों को छोड़ा गया। मामले में दारोगा संजीव कुमार दूबे के आवेदन पर दुकानदार दीपक राज, उसकी मां सीता देवी सहित 10 अज्ञात पर एफआईआर दर्ज की गयी है। पुलिस ने दुकानदार को गिरफ्तार कर लिया है।

दारोगा ने अपने आवेदन में बताया है कि दुकान बंद कराने के लिए पुलिस टीम के पहुंचने के बाद दुकानदार ने भीड़ को भड़काने के लिए पुलिस पर मारपीट करने का आरोप लगाया। इसके बाद आसपास के दुकानदार और लोगों ने पुलिसकर्मियों का घेराव कर नारेबाजी शुरू कर दी। दारोगा संजीव कुमार दूबे, जमादार अजीत कुमार वर्मा सहित अन्य पुलिसकर्मियों के साथ धक्का-मुक्की की गयी। इससे माहौल तनाव पूर्व हो गया। पुलिसकर्मियों के बर्दी फाड़ने का भी प्रयास किया। मौके पर सैकड़ों लोगों की भीड़ जमा हो गयी। जानकारी मिलने पर थानेदार मो. सुजाउद्दीन मौके पर पहुंचे। उनके समझाने के बाद भी स्थिति नियंत्रित नहीं हो पा रही थी। दारोगा संजीव कुमार दूबे और जमादार अजीत कुमार वर्मा को हंगामा कर रहे आरोपितों ने बंधक बना लिया था। नगर डीएसपी रामनरेश पासवान ने बताया कि मामले में एफआईआर की गई है। एक आरोपित को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

थानेदार ने सख्ती दिखा घिरे पुलिसकर्मियों को कराया मुक्त :

मामला तनावपूर्ण होने पर थानेदार वहां से थाने पर लौट आये। कुछ देर बाद वे थाने के सभी पदाधिकारियों, टाइगर मोबाइल जवान, सिपाही व सैप जवानों को लेकर मौके पर दोबारा पहुंचे। इसके बाद पहले समझाने का प्रयास किया। लेकिन, दुकानदार और उसकी मां ने फिर गाली गलौज शुरू कर दी। इसपर थानेदार ने सख्ती के साथ दुकानदार व उसकी मां को शांत कराया। भीड़ से घिरे दोनों पुलिसकर्मियों को वहां से सुरक्षित बाहर निकाला। करीब एक घंटे तक स्थिति तनावपूर्ण बनी रही। घटना को लेकर पुलिस ने अपने बयान पर केस दर्ज किया है। दारोगा संजीव कुमार दूबे के थाने में आवेदन दिया है। इसमें आरोपितों पर पुलिस के ऊपर हमला करने, सरकारी कार्य में बाधा डालने, आपदा में दुकान खुले रखने आदि का आरोप लगाये गए है। बताया जाता है कि पुलिस ने आरोपित दुकानदार को गिरफ्तार कर लिया है। उसे सुरक्षार्थ नगर थाने में रखा गया है। शुक्रवार को पुलिस कोर्ट में पेश करेगी।

संबंधित खबरें