ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहार मुजफ्फरपुरपिंटू से जेल में पूछताछ के बाद बस जब्ती की तैयारी

पिंटू से जेल में पूछताछ के बाद बस जब्ती की तैयारी

मुजफ्फरपुर, वरीय संवाददाता। गोरखपुर के आभूषण व्यवसायी के कर्मचारी से सोना लूट में गिरफ्तार...

पिंटू से जेल में पूछताछ के बाद बस जब्ती की तैयारी
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,मुजफ्फरपुरThu, 25 Aug 2022 01:41 AM
ऐप पर पढ़ें

मुजफ्फरपुर, वरीय संवाददाता।

गोरखपुर के आभूषण व्यवसायी के कर्मचारी से सोना लूट में गिरफ्तार मृत्युंजय उर्फ पिंटू सिंह से जेल में पूछताछ के बाद पानापुर ओपी की पुलिस अब बस जब्ती की तैयारी में है। कांड के आईओ हरेराम पासवान ने पूछताछ में आये तथ्यों की केस डायरी तैयार कर ली है। अब मामले में डीएसपी पू्र्वी मनोज पांडेय सुपरवीजन रिपोर्ट जारी करेंगे। आईओ ने बताया कि जेल में पूछताछ में पिंटू सिंह ने पांच गनर के नाम-पता बताए हैं, जो घटना के वक्त उसके साथ मौजूद थे। पिंटू सिंह से पुलिस ने शेष बचे सोना के संबंध में भी पूछताछ की है। सोनार से आभूषण गलवाने की बात भी स्वीकार की है।

इधर, सदर थाने की पुलिस भी पिंटू सिंह के घर से जब्त हुए हथियार के संबंध में चार्जशीट की तैयारी में है। हथियार की जांच रिपोर्ट आईओ ने सार्जेंट से ले ली है। अब तक पिंटू सिंह की ओर से लाइसेंस प्रस्तुत नहीं किया गया है। डीएसपी पू्र्वी ने बताया कि पिंटू सिंह पर आगे की कार्रवाई की कागजी प्रक्रिया पूरी की जा रही है। जिस बस में घटना को अंजाम दिया गया है, उसे जब्त किया जाएगा और चालक को भी गिरफ्तार किया जायेगा।

बता दें कि पश्चिम बंगाल से गोरखपुर का कमलेश यादव तीन किलो सोने का आभूषण लेकर गोरखपुर लौट रहा था। बिहार में बस के प्रवेश से पहले बस के स्टाफ ने उसके पास सोना होने की सूचना पिंटू सिंह को दी थी। रास्ते में कस्टम अधिकारी बनकर अपने गनर के साथ पिंटू सिंह ने बस की तलाशी ली थी। सोने का आभूषण मिलने के बाद कमलेश को अपने कब्जे में बस से उताकर निजी गाड़ी से मुजफ्फरपुर लाया। यहां उसके मालिक आभूषण व्यवसायी से बात की। उसे सोना जब्त होने की जानकारी देकर पांच लाख रुपये वसूल लिये। रुपया लेने के बाद पानापुर में पेट्रोल पंप पर से दोनों को भगा दिया था। इसको लेकर पानापुर ओपी में बीते 17 जुलाई को व्यवसायी ने एफआईआर दर्ज करायी थी। डीआईयू की टीम ने पिंटू को चिह्नित कर छापेमारी की और उसे 22 जुलाई को गिरफ्तार कर लिया गया था।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें