DA Image
17 जनवरी, 2021|6:11|IST

अगली स्टोरी

70 फीसदी भी जनधन खाताधारी नहीं जुड़े पेंशन व बीमा योजना से

default image

जिले में प्रधानमंत्री जनधन सह वित्तीय समावेशन योजना के 70 फीसदी भी खाताधारी बीमा व पेंशन का लाभ नहीं ले रहे हैं। बैंकों व ग्रामीण क्षेत्रों में कार्य करने वाले केंद्र व राज्य सरकार के विभागों की उदासीनता के कारण इस तरह की स्थिति बनी है। बैंकों के बिजनेस बढ़ाने समेत आर्थिक रूप से मजबूत करने के लिए हो रही पहल के क्रम में इसकी रिपोर्ट सामने आई है। इसको लेकर केंद्र सरकार ने स्टेट लेवल बैंकर्स कमेटी (एसएलबीसी) बिहार को सुधार के लिए कहा है।

जिले में वर्तमान में 20 लाख से अधिक जनधन खाते 30 बैंकों की 355 शाखाओं से संचालित हो रहे है। बैंकों की हाल ही में भेजी गई रिपोर्ट के अनुसार, पांच साल में केवल 71400 खाताधारी अटल पेंशन योजना में निवेश कर रहे हैं। प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना से एक लाख 19 हजार 477 और प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना से 3 लाख 89 हजार 716 खाताधारी ही जुड़े हैं। सुरक्षा बीमा में 20 फीसदी वृद्धि चालू वित्तीय वर्ष की दो तिमाही में हुई। शेष योजनाओं की संख्या में एक साल से वृद्धि दर्ज नहीं हो रही है।

सबसे बड़ी चुनौती है कि इन तीनों योजनाओं से ज्यादातर शहरी, अर्द्धशहरी व प्रखंडों के मुख्य बाजारों से सटे गांवों के ही खाताधारी जुड़े हैं। सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में इनकी संख्या काफी कम है। इस बारे में एलडीएम डॉ. एनके सिंह ने बताया कि सभी बैंकों के ब्रांचों खासकर ग्रामीण क्षेत्रों के ब्रांचों को निर्देश दिया गया है। जनप्रतिनिधियों की सहायता से इन योजनाओं में काम करना है। इसके लिए पहल की जा रही है।

342 रुपये में एक साल के लिए कराएं बीमा

दोनों बीमा मात्र 342 रुपये में एक साल के लिए करा सकते हैं। इसमें जीवन बीमा के लिए 330 रुपये व सुरक्षा बीमा के लिए 12 रुपये एक साल में खर्च करने होते हैं। अपने बैंक मित्र व बैंक शाखा में जाकर बीमा करा सकते हैं। जीवन बीमा के तहत सामान्य मृत्यु पर दो लाख व सुरक्षा बीमा दुर्घटना में मृत्यु होने पर दो लाख मिलते हैं। दोनों एक साथ कराने के बाद मृत्यु पर पीड़ित परिवार को चार लाख रुपये मिलते हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:70 of Jan Dhan account holders not linked to pension and insurance scheme