DA Image
25 नवंबर, 2020|4:20|IST

अगली स्टोरी

मुजफ्फरपुर के अहियापुर में पूर्व विधायक के कर्मचारी से 26.45 लाख लूटे

मुजफ्फरपुर के अहियापुर में पूर्व विधायक के कर्मचारी से 26.45 लाख लूटे

अहियापुर थाने के सहबाजपुर-राघोपुर चौक पर मंगलवार को दिनदहाड़े अपराधियों ने राजद के पूर्व विधायक मुसाफिर पासवान के कर्मचारी से 26.45 लाख रुपये लूट लिए। कर्मचारी मुकेश कुमार सिंह को आधा दर्जन से अधिक हथियारबंद अपराधियों ने घेर लिया। उस वक्त वह बाइक से मोतिहारी जा रहे थे। वारदात को अंजाम देने के बाद दो बाइक से चार अपराधी पुरानी जीरोमाइल व एक बाइक से दो अपराधी राघोपुर गांव की ओर फरार हो गए।

घटना सुबह करीब नौ बजे हुई। अपराधियों ने मुकेश की बाइक को धक्का देकर गिरा दिया। फिर बाइक की डिक्की से दो बैग में लेबर पेंमेट के लिए रखे रुपये लूट लिए। सूचना पर सिटी एसपी नीरज कुमार, नगर डीएसपी और अहियापुर पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। छानबीन में पुलिस को एक कारतूस मिला। पूर्व विधायक मुसाफिर पासवान व उनके पुत्र भी घटनास्थल पर पहुंचे। सिटी एसपी ने मुकेश से गहन पूछताछ की। घटनास्थल पर एक दुकान में लगे सीसीटीवी को खंगाला। इसमें साफ दिखा कि बाइक सवार आधा दर्जन अपरधियों ने वारदात को अंजाम दिया था। मुकेश पर पिस्टल भी तानी थी। उसे ईंट से भी मारने का प्रयास किया। मुकेश को थाने ले जाकर भी पूछताछ की गई। पूर्व विधायक के घर पर जाकर भी पुलिस ने सीसीटीवी को खंगाला।

मोतिहारी व बेतिया में करना था पेमेंट:

मुकेश ने पुलिस को बताया कि मोतिहारी व बेतिया रैक प्वाइंट पर हाल में ही माल की ढुलाई हुई थी। उसके लेबर को पेमेंट देना था। इसे लेकर वह बाइक से अकेले की मोतिहारी व बेतिया के लिए सुबह पौने नौ बजे घर से निकला था। नौ बजे अपराधियों ने वारदात को अंजाम दिया। मालूम हो कि सुबह में मुकेश पूर्व विधायक के नाजिरपुर स्थित आवास से रुपये लेकर सहबाजपुर स्थित अपने आवास आया। वहां स्नान और खाना खाने के बाद करीब पौने नौ बजे घर से मोतिहारी के लिए बाइक से निकला था।

गोली गिरने से नहीं कर सके फायरिंग:

मुकेश ने बताया कि मोतिहारी में करीब 14.45 लाख और बेतिया में 12 लाख रुपये पेमेंट देना था। पूरी राशि दो बैग में रखी थी। अपराधियों ने बाइक की डिक्की तोड़कर रुपये लूट लिए। उसपर फायरिंग करने का भी प्रयास किया, लेकिन मैग्जीन से गोली गिरने से फायरिंग नहीं हो सकी। बताया कि इससे पहले भी वह रुपये लेकर जाता था। बताया कि उसे बाइक सवार अपराधियों ने पीछे से आकर एकाएक घेर लिया। रेकी या पीछे से आते वह नहीं देख सका।

पिस्टल व बंदूक से लैस थे अपराधी :

पुलिस को मुकेश ने बताया कि अपराधियों की संख्या छह से अधिक थी। उनके चेहरे खुले थे। तीन बाइक से थे। सबके हाथ में पिस्टल और बंदूक थी। सभी की लंबाई छह फीट होगी। पांच की उम्र करीब 35 से 40 के बीच होगी। एक अपराधी काला था। उसकी उम्र 25 से 30 के बीच थी। सभी हिन्दी में बात कर रहे थे।

डर से तमाशबीन बन रहे लोग:

सहबाजपुर-राघोपुर चौक पर अमूमन भीड़भाड़ रहती है। अहियापुर चौक से सीधे पुरानी जीरोमाइल चौक पर निकलने वाली सड़क है। मंगलवार की सुबह नौ बजे भी चौक पर काफी लोग खड़े थे। मुकेश भी सहबाजपुर का रहने वाला है, लेकिन जिस वक्त उसके साथ घटना घटी, वहां मौजूद लोग तमाशबीन बन रहे। चाहते तो अपराधियों को दबोच सकते थे। स्थानीय लोगों ने बताया कि अपराधियों के हाथ में हथियार थे। इसलिए वे हिम्मत नहीं जुटा सके।

बयान :

पूर्व विधायक के कर्मचारी से लूट की वारदात हुई है। 26.45 लाख रुपये लूटने को लेकर थाने में आवेदन भी दिया गया है। सीसीटीवी में अपराधियों की तस्वीर कैद हो गई है। जल्द से जल्द सबकी गिरफ्तारी कर कांड का खुलासा किया जाएगा।

-नीरज कुमार सिंह, सिटी एसपी

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:26 45 lakhs robbed from former MLA employee in Muzaffarpur 39 s Ahiyapur