DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पारू में विद्यालय विकास की राशि में हेराफेरी

पारू प्रखंड के प्राथमिक और मध्य विद्यालयों में विद्यालय विकास की राशि में हेराफेरी का आरोप है। सामाजिक कार्यकर्ता विनय कुमार ने डीएम से इसकी निष्पक्ष जांच कर कार्रवाई करने की मांग की है। डीएम को सौंपे गए आवेदन में कहा गया है कि पारू के 155 प्राथमिक और 108 मध्य विद्यालयों में दस प्रतिशत विकास राशि स्वच्छता पर खर्च करनी थी। लेकिन इसमें भारी पैमाने पर बंदरबांट की गई है। प्रखंड के प्रति प्राथमिक विद्यालय 50 हजार और प्रति मध्य विद्यालय 75 हजार की दर से राशि आवंटित की गई थी। लेकिन क्षेत्र के कुछ स्कूलों का तो रंग-रोगन तक नहीं किया गया है। शौचालय की सफाई तक नहीं कराई गई। आरोप है कि अधिकांश स्कूलों के भवन के बाहरी हिस्सा की रंग-पुताई कर विद्यालय विकास की राशि का हजम कर ली गई है। बीडीओ संजय कुमार सिन्हा ने बताया कि इस मामले में गर्मी छुट्टी के बाद जांच कर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:राशि