DA Image
18 जनवरी, 2021|10:42|IST

अगली स्टोरी

एहतियात के साथ खुलेंगे स्कूल व कॉलेज


एहतियात के साथ खुलेंगे स्कूल व कॉलेज

मुंगेर | हिन्दुस्तान संवाददाता

मुंगेर जिले के शिक्षा विभाग ने 04 जनवरी से खुलने जा रहे 9वीं से 12वीं तक के सभी सरकारी व निजी स्कूल, सभी विश्वविद्यालय-महाविद्यालयों की अंतिम वर्ष की कक्षाएं और सभी सरकारी प्रशिक्षण संस्थान की तैयारी में जुट गया है। इसे लेकर गुरुवार को बिहार शिक्षा परियोजना कार्यालय पूरबसराय मुंगेर में जिले के तीन प्रखंड मुंगेर , धरहरा तथा जमालपुर के सभी स्कूलों के हेडमास्टरों को थर्मल स्कींनिंग को लेकर थर्मामीटर तथा छात्रों को देने के लिए जीविका दीदी को 58 स्कूलों के लिए 31 हजार मास्क उपलब्ध कराया गया।

शेष प्रखंडों के स्कूलों को 02 तथा 03 जनवरी को यह समान उपलब्ध कराया जायेगा। गौरतलब है कि बिहार सरकार के मुख्य सचिव की अध्यक्षता में 18 दिसम्बर को हुई राज्य सरकार के आपदा प्रबंधन समूह की बैठक में 4 जनवरी से स्कूल, विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालय खोलने का निर्णय लिया गया था। गुरुवार को शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने इसको लेकर विस्तृत गाइडलाइन जारी की। जिसके तहत 4 जनवरी से कई एहतियातों के साथ स्कूल-कॉलेज खुलेंगे। मौके पर डीईओ दिनेश कुमार चौधरी ने कहा कि छात्र और उनके माता-पिता को स्वस्थ होने और अद्यतन यात्रा की लिखित सूचना देनी होगी। छात्रों व शिक्षकों के स्वास्थ्य की नियमित जांच होगी। स्कूल और बसों को रोजाना बच्चों के आने के पहले और जाने के पहले दो बार सेनेटाइज किया जाएगा। स्कूल-कॉलेज 50 फीसदी उपस्थिति के साथ खुलेंगे।

हर कक्षा में छात्रों की कुल क्षमता की 50 फीसदी उपस्थिति पहले दिन जबकि शेष 50 फीसदी उपस्थिति दूसरे दिन होगी। किसी कार्यदिवस में किसी कक्षा में आधे से अधिक विद्यार्थी नहीं होंगे। साथ ही स्कूल आना बाध्यकारी नहीं होगा। शेष कक्षाओं को चालू करने पर शिक्षा विभाग 18 जनवरी के बाद निर्णय लेगा। यह जानकारी गुरुवार को मुंगेर तथा जमालपुर प्रखंड के प्रधानाध्यापक/प्रभारी प्रधानाध्यापकों के मास्क वितरण कराए जाने के क्रम में डीईओ मुंगेर दिनेश कुमार चौधरी ने कही। उन्होंने कहा कि हर हाल में मिले गाइडलाइन का सभी स्कूलों के प्रधान को पालन करना होगा। इसकी गठित टास्क फोर्स की टीम द्वारा समय समय पर जांच करायी जायेगी। पालन नहीं करने वालों के विरूद्ध विभाग कार्रवाई को बाध्य होगी।

शिक्षण संस्थान खोलने के पूर्व करनी होगी तैयारी: गाइडलाइन के मुताबिक शिक्षण संस्थान, विद्यालयों को खोलने के पूर्व अपने कैम्पस, सभी भवन की कक्षाओं, फर्नीचर, उपकरण, स्टेशनरी, भंडारकक्ष, पानी टंकी, किचेन, वाशरूम, प्रयोगशाला, फाइब्रेरी आदि की सफाई एवं संक्रमण मुक्त करना होगा। हाथ सफाई की सुविधा क्रियाशील करना। डिजिटल थर्मोमीटर, सेनेटाइजर, साबुन आदि की व्यवस्था सुनिश्चित करनी होगी। परिवहन व्यवस्था सुचारू करने के पूर्व सभी वाहनों को सेनेटाइज करना होगा। छात्रावासों को भी खोलने के पूर्व ये तमाम कवायदें होंगी।

विद्यार्थियों के सुरक्षित आवागमन की रहेगी व्यवस्था: सरकार ने शैक्षिक संस्थानों को बच्चों के सुरक्षित आवागमन को लेकर कई निर्देश दिए हैं। स्कूल बसों को रोजाना दो बार सेनेटाइज करना होगा। संभव हो तो बस के अंदर छह फीट की दूरी का पालन किया जाए। बगैर मास्क के किसी को बस में बैठने नहीं दिया जाएगा। बस के सभी शीशे, सभी पर्दे खुले रहेंगे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Schools and colleges will open with precaution