DA Image
28 फरवरी, 2021|5:32|IST

अगली स्टोरी

कृषि कानून के विरोध में 30 को होगी राजद की मानव शृंखला

default image

मुंगेर | हिन्दुस्तान संवाददाता

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के शहादत दिवस के मौके पर राजद तथा महागठबंधन संयुक्त रूप से केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि संशोधन बिल के खिलाफ राज्यव्यापी मानव शृंखला आयोजित करेगा।

वहीं इससे पहले 24 जनवरी को बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जननायक कर्पूरी ठाकुर की जयंती को संकल्प दिवस के रूप में मनाएगा। यह बातें बुधवार को परिसदन में आयोजित प्रेस कॉफ्रेंस में पूर्व केन्द्रीय मंत्री राजद के वरिष्ठ नेता जयप्रकाश नारायण यादव ने कहीं। उन्होंने कहा कि 24 से 30 जनवरी के बीच राज्य नेतृत्व के निर्देश पर जिला स्तर से लेकर वार्ड स्तर तक बैठक, चर्चा सहित अन्य कार्यक्रमों के माध्यम से अपने कार्यकर्ताओं को आंदोलन के लिए एकजुट किया जायेगा। केंद्र सरकार के कृषि संशोधन कानून के विरोध में विगत ढाई माह से कई प्रदेशों के किसान दिल्ली की सीमा पर आंदोलनरत हैं। केंद्र सरकार आत्मनिर्भर भारत के नाम पर अन्नदाता किसानों को भिक्षा के लिए मजबूर कर रही है। उन्होंने बिहार सरकार पर प्रहार करते हुए कहा कि 2006 से बिहार से कृषि बाजार समितियों को उठा दिया गया है। ऐसे में केंद्र राज्य की एनडीए सरकार किसानों की रक्षा करने तथा उनके आय को बढ़ाने के बजाय इन्हें बर्बाद कर रही है। महागठबंधन किसानों के साथ खड़ा है और इस काले कानून को रद्द कराकर ही दम लेगा। यह आंदोलन एनडीए सरकार के अवसान की शुरुआत है। बेरोजगारी के मुद्दे पर राजद नेता ने कहा कि 2014 के बाद कितनी नौकरियां निकाली गई , इसका ब्यौरा केंद्रीय सांख्यिकी विभाग के पास भी उपलब्ध नहीं है। राजद नेता ने कहा कि बिहार में हत्या, बलात्कार, अपहरण आदि का उद्योग चल रहा है तथा अपराधियों की बिहार में चांदी चल रही है। रूपेश हत्याकांड के तत्वों को मिटाया जा रहा है जबकि सीएम के घर से मात्र 2 किलोमीटर दूर हत्या होती है। मौके पर राजद प्रत्याशी अविनाश विद्यार्थी, जिला अध्यक्ष डॉ. देवकीनंदन सिंह, गजेंद्र कुमार हिमांशु उर्फ अरविंद नरेश सिंह यादव, प्रो शब्बीर हसन, संजय पासवान, प्रो.विनय कुमार सुमन, प्रमोद यादव, दिनेश यादव, मो जुनैद मखमूर, मो आबिद आदि मौजूद थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:RJD 39 s human chain to protest against agricultural law on 30th