Wednesday, January 26, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार मुंगेरफर्जी टीटीई की निशानदेही पर पुलिस ने शुरू की जांच

फर्जी टीटीई की निशानदेही पर पुलिस ने शुरू की जांच

हिन्दुस्तान टीम,मुंगेरNewswrap
Fri, 26 Nov 2021 11:10 PM
फर्जी टीटीई की निशानदेही पर पुलिस ने शुरू की जांच

जमालपुर। एक संवाददाता

जमालपुर क्यूल रेलखंड के बीच अभयपुर रेलवे स्टेशन पर अंग एक्सप्रेस से आरपीएफ द्वारा गिरफ्तार फर्जी टीटीई सौरभ मामले में क्यूल रेल थाना पुलिस ने जांच आरंभ कर दी है। पुलिस पूछताछ में सौरव ने खुलासा किया है कि उसके गिरोह को फर्जी ईएफटी बुक भागलपुर रेलवे स्टेशन के इन्क्वायरी में तैनात सिविलियन अमरजीत चौधरी उपलब्ध कराता था। जिसके बदले उसे ट्रेनों से वसूले गये पैसे का आधा हिस्सा मिलता था। इतना ही नहीं सौरव ने यह भी बताया कि अमरजीत चौधरी की पैठ रेलवे कॉमर्शियल विभाग के कुछ अधिकारियों से भी थी। जिसकी साठगांठ से ही यह गोरखधंधा चलाया जा रहा था। बताया कि उसके गिरोह का सरगना विजय कुमार सिंह की अमरजीत चौधरी के साथ काफी घुसपैठ थी। विजय व अमरजीत चौधरी के सहयोग से ही चार चार फर्जी टीटीई को अलग अलग ट्रेनों में भेजा करता था।

अमरजीत चौधरी द्वारा दिए गए फर्जी ईएफटी बुक से अबतक लगभग 25-30 लाख रुपये की वसूली की गई है। विजय के इशारे पर ही अमरजीत पहले ट्रेनों की रेकी करता था। उसके बाद अलग अलग ट्रेनों में भागलपुर- क्यूल और क्यूल- बरौनी रेलखंड पर गिरोह के अन्य चार सदस्यों को फर्जी टीटीई बनाकर भेजा जाता था। इस संबंध में क्यूल रेल थाना एसएचओ कामेश्वर चौधरी ने बताया कि फर्जी टीटीई सौरव की निशानदेही पर भागलपुर स्टेशन के इन्क्वायरी में छापेमारी की गई है। सिविलियन अमरजीत चौधरी फरार था। सौरव की निशानदेही पर अन्य जगहों पर भी छापेमारी की जा रही है। गिरोह के सभी सदस्य जल्द ही जेल की सलाखों के पीछे होंगे।

epaper

संबंधित खबरें